शारीरिक शिक्षा

संवादसहयोगी,कोंच:नगरकेमुख्यचंद्रकुआंचौराहापरस्थितवीरांगनारानीलक्ष्मीबाईकीप्रतिमाकास्वरूपजल्दहीबदलनेवालाहै।नगरपालिकाइसप्रतिमाऔरउसकेस्थलका16लाखरुपयेकीलागतसेसुंदरीकरणकरानेजारहीहै।

झांसीकीरानीमहारानीलक्ष्मीबाईकाकोंचसेअपनेजीवनकालकेदौरानविशेषलगावरहाहै।उनकेबपचनकाअधिकांशसमयनगरकेप्राचीनरामललामंदिरमेंबीता।इसीमंदिरकेमहंतआत्मारामकेसानिध्यमेंउनकीशिक्षादीक्षाभीहुईथी।वहजबझांसीकीरानीबनींतोउनकाआनाजानाकोंचमेंलगारहाथा।रामललामंदिरकेपासहीचंद्रकुआंजोउससमयएकबड़ाकुआंथाऔरनगरकीआबादीकोपेयजलकीआपूर्तिभीकियाकरताथा।रानीकईबारइसकूएंपरभीआईथीं।बादमेंकुओंकाइस्तेमालबंदहोगयातोस्थानीयप्रशासनद्वारादुर्घटनाओंकेडरसेकुएंकोपाटदियाऔरलक्ष्मीबाईकेकोंचप्रेमकोदेखतेहुएइसकुएंपरउनकीप्रतिमा1992मेंतत्कालीननगरपालिकाप्रशासननेस्थापितकरादीथी।बादमेंइसप्रतिमास्थलकापालिकानेसुंदरीकरणकरायाऔरअबपुन:नगरपालिकानेइसस्थलकोऔरअधिकसुंदरबनानेएवंहाईटेककरनेकीयोजनाबनाईहै।नगरपालिकाकीअध्यक्षडॉ.सरितावर्मानेबतायाकिप्रतिमापरफूलमालाचढ़ानेकेलिएएकसीढ़ीबनाईजाएगी।प्रतिमाकोऔरअधिकसुंदरतरीकेसेबनवाकरस्थापिताकियाजाएगा।इसस्थानकेसुंदरीकरणकेलिए16लाखरुपयेराज्यवित्तकीधनराशिसेव्ययकिएजाएंगे।जल्दहीसुंदरीकरणकरायाजाएगा।

By Cooper