शारीरिक शिक्षा

नईदिल्लीः1984मेंदिल्लीमेंहुएसिखदंगोंकेआरोपीसज्जनकुमारनेसुप्रीमकोर्टमेंजमानतयाचिकादायरकीहै.आजीवनकारावासकीसजाकाटरहेसज्जनकुमारकीइसयाचिकापरसुनवाईकरनेकेलिएसुप्रीमकोर्टतैयारहोगयाहै.बतादेंकिइससेपहलेभीसज्जनकुमारनेजमानतयाचिकादायरकीथी,लेकिनअगस्तकेमहीनेमेंसुप्रीमकोर्टनेइसयाचिकाकोखारिजकरदियाथा.

सज्जनकुमारकिइसनईयाचिकापरचीफजस्टिसरंजनगोगोईनेकहाकिहमदेखतेहैं.दंगोंकेआरोपीसज्जनकुमारनेहाईकोर्टकेफैसलेकेखिलाफसुप्रीमकोर्टमेंयाचिकादायरकीहै.दिल्लीहाईकोर्टनेइसमामलेमेंसज्जनकुमारकोआजीवनकारावासकीसजासुनाईथी.बतादेंकिदिल्लीकेइनदंगोंमें2500सेज्यादासिखलोगमारेगएथे.

सज्जनकुमारकोइनसिखदंगोंमेंषड़यंत्ररचने,हिंसाऔरदंगाफैलानेकाआरोपीमानागयाथा.इनदंगोंमेंदिल्लीकैंटमेंरहनेवालेएकपरिवारकेपांचलोगोंकीहत्याकरदीगईथी.उम्रकैदकीसजाकेबादसज्जनकुमारनेनिचलीअदालतमेंसरेंडरकियाथा.दंगोंमेंदोषीपाएजानेकेबादसज्जनकुमारनेकांग्रेसपार्टीसेइस्तीफादेदियाथा.

By Cooper