शारीरिक शिक्षा

जासं,फीरोजाबाद:प्राथमिकस्कूलकन्यालेबरकॉलोनीमेंपढ़नेवालीकक्षाचारकीछात्राबेबीऊंचास्वेटरपहनेबैठीथी।छात्राको36नंबरसाइजकास्वेटरमिलनाथा,लेकिनउसे32नंबरकामिलाहै।तीसरीकक्षाकेअनस,पांचवीकेशहराम,रुखसार,मंतसाकीसुनिए।इनकानाप36कालियागयाथा,लेकिनस्वेटरमिला40नंबरका।वहींजिलेमें23हजारसेज्यादाबच्चेऐसेहैं,जिनकेपासअबतकसरकारकेस्वेटरहीनहींपहुंचे।सर्दीएक्सप्रेसआगई,लेकिनसरकारकीस्वेटरएक्सप्रेसपटरीसेउतरीहै।जूतोंकेबादअबस्वेटरकीसुविधाभीबदइंतजामीकेसवालोंकेघेरेमेंहै।

प्रत्येकवर्षसरकारद्वारापरिषदीयस्कूलोंमेंपढ़नेवालेछात्र-छात्राओंकोस्वेटरउपलब्धकराएजातेहैं।इसबारस्वेटरकाठेकादिल्लीकीमलिकइंटरप्राइजेजकंपनीकोदियागया।30नवंबरतकहरबच्चेकेपासस्वेटरपहुंचनाचाहिएथा।टीमजागरणनेजबइसकीहकीकतकीपड़तालकीतोतस्वीरचौंकानेवालीरही।दोपहरशहरकेलेबरकॉलोनीस्थितप्राथमिकस्कूलबालकमेंदूसरीकक्षाकेअरमानको30नंबरकीजगह34कास्वेटरमिलताथा।वहींपांचवींकेकन्हैया,जुवैदसहितआधादर्जनसेअधिकछात्रस्वेटरकाअबभीइंतजारकररहेहैं।उच्चप्राथमिकस्कूलरहनामें265छात्र-छात्राएंपंजीकृतहै,लेकिन226कोहीस्वेटरमिलसकेहैं।

कहींमोटातोकहींपतलास्वेटर

इसबारवितरितकिएगएस्वेटरोंमेंकाफीझोलहै।किसीबच्चेकोमोटातोकिसीकोपतलास्वेटरउपलब्धकरायागयाहै।बच्चोंकाकहनाथाकिअभीदोसप्ताहपहलेहीस्वेटरमिलाथा,लेकिनअभीसेरूआंदेनेलगेहैं।स्वेटरोंमेंसर्दीलगतीहै।

पिछलेवर्षस्कूलप्रबंधसमितिनेकीथीखरीदारी

शैक्षिकसत्र2018-19तकप्रत्येकस्कूलकीप्रबंधसमितिद्वारास्वेटरखरीदेगएथे।इसकेलिएसरकारनेप्रत्येकबच्चेकीदरसेदोसौरुपयेकीधनराशिउपलब्धकराईगईथी।कार्रवाईकेडरसेस्वेटरकीगुणवत्ताभीठीकरही।

छात्रों-छात्राओंकीकुलसंख्या-1,68,850

अबतकबांटेगएस्वेटर-1,45,000

बचेहुएछात्र-छात्राओंकीसंख्या-23,850

स्कूलोंमेंसाइजकेहिसाबसेस्वेटरवितरणनहींहोनेकीशिकायतेंमिलरहीहैं।इससंबंधमेंबीएसएकोनिर्देशदिएहैकिस्वेटरवापसकराकरसाइजकेहिसाबसेहीछात्र-छात्राओंकोस्वेटरउपलब्धकराएंजाएं।

अवधकिशोर,अपरनिदेशकबेसिकशिक्षाआगरा

By Daniels