शारीरिक शिक्षा

एकदर्जनसेअधिकगांवोंकीहालतबदहाल,नहीपहुंचीविकासकीकिरण

जानेकामार्गतकनहीं

संवादसूत्रचरही(हजारीबाग):जिलेकेअतिसुदूरवर्तीक्षेत्रचुरचूप्रखंडकेआदिवासीबहुलदर्जनभरसेअधिकऐसेगांवहैं,जहांआजादीकेइतनेवर्षोंबादभीगांवमेंविकासकीकिरणनहींपहुंची।फुसरी,दलदलिया,चिरूबेडा,पीपराबेडा,कर्माबेड़ा,दहुदाग,बिराखाप,लिखलाहीगांवकीतस्वीरआजादीके74वर्षबादभीनहींबदलीहै।जिलेकेसुदूरवपहाड़ीक्षेत्रकोदेखतेहुएचुरचूकोप्रखंडइसलिएबनायागयाकिक्षेत्रकाविकाससंभवहोपाएंगे।आजादीकेबादकईबदलावहुएहैं।बिहारसेअलगहोकरझारखंडराज्यकीस्थापनाहुई।जिलेऔरप्रखंडकोकोभीबांटकरचुरचूकोएकअलगछोटाप्रखंडबनादियागया।इससेविकासकीकिरणउनक्षेत्रोंमेंफूटेंगेजहांकोईराजनेताऔरअधिकारीनहीपहुंचते।नेताओंकाकाफिलाउनसुदूरवर्तीगांवोंमेंकभीकभारचुनावोंकेमौसममेंहीपहुंचतेहैं।चुनावजीतनेकेबादउनक्षेत्रकाविकासरामभरोसेहीरहजाताहै।प्रखंडमुख्यालयसेपांचसेसातकिलोमीटरकीदूरीपरकईऐसेगांवबसेहैं,जहांआजभीमूलभूतसुविधानहींपहुंचपाईहै।चिरूबेडा,जोजोबेडाऔरपिपराबेडा,पंदनाटांड़गांवकेलोगआजभीढिबरीयुगमेअपनाजीवनजीरहेहैं।इनगावोंमेंबिजली,सड़क,स्वास्थ्यऔरशिक्षाजैसेमूलभूतसुविधासेवंचितहै।गांवमेंचारपहियासेतोदूरदोपहियासेभीगांवजानामहंगापड़ताहै।बरसातमेंबीमारपड़जानेपरमुश्किलसेअस्पतालतकलानापड़ताहै।बिजलीनहींहोनेकेकारणग्रामीणोंकोकाफीदिक्कतोंकासामनाकरनापड़ताहै।वर्तमानसमयमेंकेरोसिनकीमहंगाईकेकारणरात्रिकोबच्चेअपनेघरोंमेंपढ़ाईनहींकरपातेहैं।ऐसानहीकिविकासनहींकियाजासकताहै।जनप्रतिनिधियोंऔरसरकारीतंत्रोंकीइच्छाशक्तिनहींहोनेकेकारणखाकातैयारयोजनाओंकोजमीनपरउतारानहीजापाताहै।बातकरेंउसपथकीजोप्रखंडमुख्यालयसेचरहीकीदूरीमहजदसकिलोमीटरकीहै।बहेरा-बोदरामार्गकोइच्छाशक्तिकीकमीहोनेकेकारणनहींबनायाजासकाहै।इसीरास्तेकेबीचमेंहीआदिवासीबहुलकईगांवबसेहुएहैं।

By Curtis