शारीरिक शिक्षा

आगरा,जागरणसंवाददाता। पतिकोकोरोनामेंगंवानेकेबादविधवाकेकंधोंपरनाबालिगबेटे-बेटीकीजिम्मेदारीआगई।मकानकाकिराया,बच्चोंकीपढाई,घरकाराशनजुटानेआदिकीफिक्रनेविधवामंजूकोबीमारडालदिया।परिवारकेमुखियाकीमौतकेबादअपनीऔरबच्चोंकेभविष्यकीचिंतारहीहै।पाई-पाईकरकेजमाकीगईपूंजीलगभगखत्महोचुकीहै।

न्यूआगराकेनगलापदीकेरहनेवाले45सालकेवीरेंद्रफलऔरसब्जीकीठेललगातेथे।दिनभरकीमेहनतकेबादपरिवारकेलिएदाेवक्तकीरोटीकाइंतजामकरपातेथे।बेटीऔरबेटेकोइसउम्मीदकेसाथपढ़ारहेथेकिवहबड़ेहोकरकुछबनजाएंगेतोउनकेकंधोंकाबोझकुछकमहोजाएगा।मगर,किस्मतकोकुछऔरहीमंजूरथा।

पत्नीमंजूनेबतायाकि20अप्रैलकोपतिकोतेजबुखारआया।उन्हेंगलेमेंदर्दऔरसांसलेनेमेंदिक्कतहोनेलगी।परेशानीबढ़नपरवह21अप्रैलकोपतिकोपासकेअस्पताललेकरगईं।पतिमेंकोरोनाकेलक्षणहोनेकेचलतेउन्हेंकिसीअस्पतालमेंभर्तीनहींकियागया।उन्हेंबतायागयाकिवीरेंद्रकाआक्सीजनकास्तरकाफीकमहोगयाहै।वहपतिकोलेकरइधरसेउधरभागतेरहीं।इसदौरानउन्हाेंनेदमतोड़दिया।

पतिकीमौतकेबादसेपरिवारकीआर्थिकसंकटमेंघिरगयाहै।जिसठेलसेपरिवारकाखर्चचलताथा।वहदोमहीनेसेघरपरखड़ीहै।मंजूकाकहनाहैकिवहदूसरोंकेघरोंमेंकामकरकेघरकीजिम्मेदारीमेंहाथबंटातीथीं।पतिकीमौतकेबादवहभीबीमारपड़गईहैं।दोबडीबेटियांजिनकीशादीहोचुकीहै,वहयहांपरआकरउनकीदेखभालकररहीहैं।जमापूंजीलगभगखत्महोचुकीहै।मंजूकाकहनाथाकिबच्चोंकीशिक्षाऔरभविष्यकेलिएउन्हेंसरकारीमददकीदरकारहै।