शारीरिक शिक्षा

बक्सर।व्यवहारन्यायालयकेएसीजेएम3कीअदालतमेंशनिवारकोआ‌र्म्सएक्टमामलेकीसुनवाईकीगई।न्यायाधीशधर्मेंद्रकुमारतिवारीनेअभियुक्तबैद्यनाथसाहकेविरुद्धआरोपसिद्धपाया।वह बगेनगोलथानाक्षेत्रकेभदावरगांवकारहनेवालाहै।उन्होंनेआ‌र्म्सएक्टकेअलग-अलगधाराओंकेतहतएकवर्षसश्रमकारावासकीसजाकाफैसलासुनाया।घटना1999मेंघटीथी।अभियुक्तकोपुलिसनेएकबन्दूकऔरगोलीकेसाथगिरफ्तारकियाथा।

कोर्टनेउसपरसजाकेसाथही दोधाराओंमेंतीन-तीनहजारका जुर्मानाभीलगाया।सजाएकसाथचलेगी।लेकिन,जुर्मानेकीराशिकाभुगतानअलग-अलगकरनाहोगा।न्यायालयसूत्रोंकेमुताबिकअभियुक्तकीमौजूदाउम्रलगभग80सालकीहै।इसवजहसेकोर्टनेउसकेमामलेमेंनरमीबरततेहुए,उसकेविरुद्धमहजएकवर्षकीसजाकाफैसलासुनाया।इसमामलेमें बगेनगोलाथानेकेअवरनिरीक्षककोमलरामने1999मेंप्राथमिकीदर्जकराईथी।इसमेंउसनेदोलोगोंकोआरोपीबनायाथा।लेकिन,एकआरोपितमहेशसाहकेविरुद्धपुलिसपुख्तासबूतपेशनहींकरपाई।इसवजहसेकोर्टनेउसेसन्देहकालाभदेतेहुएमुकदमेसेबरीकरदिया।वहीं,बैद्यनाथसाहकोदोषीपायागया।पुलिसने मुसहरटोलीकेसाहटोलामेंगुप्तसूचनाकेआधारपरछापेमारीकीथी।इसीदौरानअभियुक्तहथियारकेसाथरंगेहाथगिरफ्तारकियागयाथा।

By Dale