शारीरिक शिक्षा

नईदिल्ली:केन्द्रसरकारनेबुधवारकोउच्चतमन्यायालयकोसूचितकियाकिफर्जीड्राइविंगलाइसेंसकीसमस्यादूरकरनेकेलिएवहइसेआधारनंबरसेजोड़नेकीप्रक्रियापरकामरहीहै.सभीराज्योंकोइसकेदायरेमेंलातेहुएएकनयासॉफ्टवेयरतैयारकियाजारहाहै.न्यायमूर्तिमदनबी.लोकूरऔरन्यायमूर्तिदीपकगुप्ताकीपीठकोउच्चतमन्यायालयकेपूर्वन्यायाधीशकेएसराधाकृष्णनकीअध्यक्षतामेंशीर्षअदालतद्वारानियुक्तसड़कसुरक्षासमितिनेइसकीजानकारीदी.समितिद्वारादीगईयहजानकारीमहत्वपूर्णहैक्योंकिइससमयप्रधानन्यायाधीशदीपकमिश्राकीअध्यक्षतावालीपांचसदस्यीयसंविधानपीठआधारयोजनाऔरइससेसंबंधितकानूनकीसंवैधानिकताकोचुनौतीदेनेवालीयाचिकाओंकीसुनवाईकररहीहै.

समितिनेशीर्षअदालतमेंदाखिलअपनीरिपोर्टमेंकहाहैकिउसनेपिछलेसाल28नवंबरकोसड़कपरिवहनऔरराजमार्गमंत्रालयकेसंयुक्तसचिवकेसाथफर्जीलाइसेंसकीसमस्याऔरइसेसमाप्तकरनेसहितकईबिन्दुओंपरविचारविमर्शकियाथा.रिपोर्टकेअनुसार,‘फर्जीलाइसेंसकेबारेमेंसंयुक्त्सचिवनेसूचितकियाकिएनआईसीसारथी-4तैयारकररहाहैजिसकेअंतर्गतसभीलाइसेन्सआधारसेजोड़ेजाएंगे.यहसॉफ्टवेयरसभीराज्योंकोअपनेदायरेमेंलेगाऔरफिरकिसीकेलियेभीडुप्लीकेटयाफर्जीलाइसेन्सदेशकेकिसीभीहिस्सेसेलेनासंभवनहींहोगा.समितिकाप्रतिनिधित्वकररहेवकीलनेपीठसेकहाकिसड़कपरिवहनऔरराजमार्गमंत्रालयऔरदूसरेप्राधिकारियोंकेसाथ22-23फरवरीकोसमितिकीएकबैठकहोरहीहैजिसमेंशीर्षअदालतकेनिर्देशोंपरअमलकेबारेमेंविचारकियाजाएगा.

मंत्रालयकीओरसेअतिरिक्तसॉलिसीटरजनरलपिंकीआनंदनेपीठसेकहाकि2016कीतुलनामें2017मेंप्राणघातकसड़कदुर्घटनाओंमेंकरीबतीनप्रतिशतकीकमीआईहै.समितिनेअपनीरिपोर्टमेंकहाहैकिउसनेराज्योंऔरकेन्द्रशासितप्रदेशोंसेसड़कदुर्घटनाओंकेआंकड़ेमांगेहैं.समितिनेपिछलेसाल24नवंबरकोअपनेपत्रमेंसभीराज्योंसेसड़कसुरक्षाकोषबनानेकेलिएकहाथाजोसमाप्तनहींहोगाऔरइसमेंयातायातनियमोंकाउल्लंघनकरनेवालोसेमिलनेवालीजुर्मानेकीराशिकाएकहिस्साभेजाजाएगा.न्यायालयनेइसमामलेको23अप्रैलकेलियेसूचीबद्धकरतेहुयेकहाकिउसकेपहलेकेनिर्देशोंपरसमितिकोअमलसुनिश्चितकरनाचाहिए.

By Cooper