शारीरिक शिक्षा

हैदराबाद:तेलंगानासरकारनेसंशोधितनागरिकताकानून(CitizenshipAmendmentAct)केखिलाफविधानसभामेंएकप्रस्तावपासकरनेकानिर्णयलियाहै.तेलंगानासरकारनेमुख्यमंत्रीकेचंद्रशेखरराव(KCR)कीअध्यक्षतामेंहुईबैठककेबादबादयहनिर्णयलिया.रावनेकेंद्रसरकारसेअपीलकीहैकिवहइसकानूनकोवापसलेऔरलोगोंकेसाथधर्मकेआधारपरभेदभावनहींहो.

आपकोबतादेंकिराजस्थानविधानसभानेहालहीमेंनागरिकतासंशोधनअधिनियम(सीएए),राष्ट्रीयनागरिकरजिस्टर(एनआरसी)औरराष्ट्रीयजनसंख्यारजिस्टर(एनपीआर)केखिलाफएकप्रस्तावपारितकियाहै.इसदौरानविपक्षीदलभाजपानेकांग्रेसकेनेतृत्ववालीसरकारकेइसकदमकाजोरदारविरोधकिया.जैसेहीराज्यकेसंसदीयमामलोंकेमंत्रीशांतिधारीवालनेविधानसभामेंप्रस्तावपेशकिया,भाजपाविधायकोंनेसदनमेंनारेबाजीशुरूकरदी.इसदौरानकुछविधायकआक्रामकहोकरसदनकेवेलमेंपहुंचगएऔरप्रस्तावपरअपनाविरोधजतानेलगे.ऐसेकईऔरजगहहैंजहांइसविरोधीप्रस्तावकेपेशहोतेहीविधानसभामेंगहमागहमीबढ़गईथी.

बतादेंकिइससेपहले केरल,पंजाब,राजस्थानऔरपश्चिमबंगालमेंभीनागरिकताकक़ानूनकेखिलाफप्रस्तावपारितकियाजाचुकाहै.देशकेकईराज्योंनेकहाहैकिवहनागरिकताक़ानूनकेसाथहीएनआरसीकोभीलागूनहींहोनेदेंगे.इसीराहपरचलतेहुएतेलंगाना राज्यमंत्रिमंडलनेसीएएविरोधीप्रस्तावविधानसभामेंपेशकरनेकानिर्णयलियाहै.हालाँकिकेंद्रसरकारपहलेहीकहचुकीहैकिनागरिकताक़ानूनऔरएनआरसी केलागूहोनेयानहोनेमेंराज्यसरकारोंकीकोईभूमिकानहींहै.औरराज्यसरकारइससेइंकारनहींकरसकतीहैं.

By Cooper