शारीरिक शिक्षा

अलीगढ़,एबीपीगंगा।देशमेंसंशोधितनागरकिताकानूनकोलेकरबहसछिड़ीहुईहै,कईजगहविरोधप्रदर्शनहोरहेहैं।इसबीचअलीगढ़केडॉ.राममनोहरलोहियाअवधविश्वविद्यालयमेंह‍िंदू-मुस्लिमसंबंधोंपरचर्चाहुई।इसकाविषयथा,'श्रीराम:वैश्विकसुशासनकेप्रणेता'औरवक्ताकेतौरपरमौजूदकेरलकेराज्यपालऔरउदारविचारोंकेलिएप्रख्यातआरिफमोहम्मदखानऔरपाकिस्तानीमूलकेजाने-मानेपत्रकारएवंआलोचकतारिकफतेहनेप्रस्तावितविषयपरअपनेचिरपरिचितअंदाजमेंबेखौफबातेंकहीं।

तारिकनेकहाकिअयोध्यामेंराममंदिरनिर्माणसेह‍िंदुओंऔरमुस्लिमोंकातलाकखत्महोगा।इशारोंमेंइतिहासकेपुनर्लेखनकीवकालतकी।उन्होंनेकहा,तमामऐसेराजाऔरशासकहुए,जिन्होंनेआक्रमणकारियोंकोखदेड़ा,लेकिनउनकेबारेमेंयुवानहींजानते।उन्होंनेभारतीयोंकीचिरपरिचितउदारताकीकमजोरियोंकेसाथइसकीखूबियोंकाभीउल्लेखकियाऔरकहा,इसदेशकेप्रतिमुस्लिमोंकाजोसुलूकरहाहै,उसकेचलतेउन्हेंमतदानतककाअधिकारनमिलता,परशुक्रहैकिवेह‍िंदुस्तानमेंहैं।तारिकनेइस्लामिकआक्रांताओंकीबर्बरताऔरउसकेबादभारतकीअस्मिताकोचोटपहुंचानेकेलिएमुस्लिमोंकोमाफीमांगनेकीसलाहदीऔरकहा,उन्हेंतभीइंसाफमिलेगाजबतकवेअपनेपूर्वजोंकेगुनाहनकुबूलकरलें।

उन्होंनेसीएएकेखिलाफविश्वविद्यालयोंमेंहुएप्रदर्शनपरकहाकिधर्मकेनामपरविश्वविद्यालयोंकानामनहींहोनाचाहिए।तारिकनेजामियामिलियायूनिवर्सिटीकोपूरीतरहसेसरकारीनियंत्रणमेंलेनेकीवकालतकी।