शारीरिक शिक्षा

नईदिल्ली:सुप्रीमकोर्टनेबाबरीमस्जिदविध्वंससेजुड़े2मुकदमेएकसाथचलानेकेसंकेतदिएहैं.एकमामलालखनऊमेंहै,दूसरारायबरेलीमें.कोर्टनेकहाहैकिरायबरेलीकेमुकदमेकोभीलखनऊकीकोर्टमेंट्रांसफरकियाजासकताहै.

आजसुप्रीमकोर्टने25सालतकमामलेकेखिंचनेपरसवालउठाए.कोर्टनेकहाहममामलेमेंरोज़ानासुनवाईकरनेऔरउसे2सालकेभीतरनिपटानेकाआदेशदेसकतेहैं.

क्याहोगाअसर?

दोनोंमामलेसाथचलनेसेलालकृष्णआडवाणी,मुरलीमनोहरजोशी,कल्याणसिंहसमेतकईबड़ेनेताओंपरसाज़िशकरनेकीधाराबहालहोजाएगी.येसभीनेतामुकदमाचलानेमेंहुईतकनीकीगलतियोंकेचलतेआपराधिकसाजिशकीगंभीरधारासेबचगएथे.

क्यातकनीकीगलतीथी?

1992मेंअयोध्यामेंबाबरीमस्जिदगिराएजानेकेबाद2एफआईआरदर्जहुई.एफआईआरसंख्या197लखनऊमेंदर्जहुई.येमामलाढांचागिरानेकेलिएअनामकारसेवकोंकेखिलाफथा.एफआईआरसंख्या198कोललितपुरमेंदर्जकियागया.इसेबादमेंरायबरेलीट्रांसफरकियागया.इसएफआईआरमें8बड़ेनेताओंकेऊपरमंचसेहिंसाभड़कानेकाआरोपथा.येबड़ेनेताथे-लालकृष्णआडवाणी,मुरलीमनोहरजोशी,साध्वीऋतम्भरा,गिरिराजकिशोर,अशोकसिंहल,विष्णुहरिडालमिया,उमाभारतीऔरविनयकटियार.

बादमेंइनदोनोंमामलोंकोलखनऊकीकोर्टमेंट्रांसफरकरदियागया.सीबीआईनेजांचकेदौरानसाज़िशकेसबूतपाए.उसनेदोनोंएफआईआरकेलिएसाझाचार्जशीटदाखिलकी.इसमेंबालठाकरेसमेत13औरनेताओंकेनामजोड़ेगए.कुल21नेताओंकेखिलाफआपराधिकसाजिशकीधारा120bकेआरोपलगाएगए.

2001मेंइलाहबादहाईकोर्टनेपायाकिएफआईआर198कोलखनऊकीस्पेशलकोर्टमेंट्रांसफरकरनेसेपहलेचीफजस्टिससेइसकीइजाज़तनहींलीगयीथी.ऐसाकरनाकानूननज़रूरीथा.इसवजहसेलखनऊकीकोर्टकोएफआईआर198परसुनवाईकाअधिकारनहींथा.

हाईकोर्टनेइसनिष्कर्षकेआधारपरदोनोंमामलोंकोअलगचलानेकाआदेशदिया.इसफैसलेकोबादमेंसुप्रीमकोर्टनेभीसहीठहराया.दोनोंमामलेअलगहोनेकेचलतेसीबीआईकीसाझाचार्जशीटबेमानीहोगयी.8नेताओंकामुकदमारायबरेलीवापसपहुंचगया.बादमेंइसीकोआधारबनाकरवो13नेताभीमुकदमेसेबचगएजिनकानामसाझाचार्जशीटमेंशामिलथा.इसकासबसेबड़ाअसरयेहुआकिकिसीभीनेताकेऊपरआपराधिकसाजिशकीधाराबचीहीनहीं.

13नेताओंकोमुकदमेसेअलगकरनेकाहाईकोर्टकाफैसला2011मेंआया.सीबीआईनेइसेसुप्रीमकोर्टमेंचुनौतीदी.आजसुप्रीमकोर्टमेंइसीमामलेकीसुनवाईहोरहीथी.

क्याथींदलीलें?

सीबीआईनेतकनीकीआधारपरनेताओंकेबचनेकाविरोधकिया.एडिशनलसॉलिसिटरजनरलनीरजकिशनकौलनेकहाकिजबएजेंसीकोजांचमेंसाज़िशकेसबूतमिलेतोउसेइसकेतहतमुकदमाकरनेकाअधिकारमिलनाचाहिए.

इसकाविरोधकरतेहुएलालकृष्णआडवाणीऔरमुरलीमनोहरजोशीकीतरफसेपेशवरिष्ठवकीलकेकेवेणुगोपालनेकहाकिसीबीआईनेमामलेमेंलगातारकोताहीबरतीहै.उसेअगरसाज़िशकीबातसहीलगतीहैतोएडिशनलचार्जशीटदाखिलकरनीचाहिएथी.दोनोंमामलेअलगकरनेकेफैसलेकोसुप्रीमकोर्टखुदसहीठहराचुकाहै.

मामलेमेंअर्ज़ीदाखिलकरनेवालेएकशख्सहाजीमहमूदकेवकीलकपिलसिब्बलनेकहाकिसीबीआईकीकईकमियांगिनाईंजासकतीहैं.लेकिनयेइंसाफकेआड़ेनहींआसकता.सुप्रीमकोर्टकोऐसेमामलोंमेंविशेषशक्तियांहासिलहैं.

कोर्टकारुख?

जस्टिसपीसीघोषऔररोहिंटननरीमनकीबेंचपहलेभीकहचुकीहैकिमहज़तकनीकीवजहोंसेकिसीआरोपीकाबचनागलतहै.जजोंनेआजभीकहाकिन्यायकेहितमेंफैसलालेनेकेलिएवोअनुच्छेद142केतहतमिलीविशेषशक्तिकाइस्तेमालकरसकतेहैं.

वरिष्ठवकीलवेणुगोपालनेइसकापुरज़ोरविरोधकिया.उन्होंनेकहाकिऐसाकरनाकानूननगलतहोगा.बेंचनेसभीवकीलोंकीजिरहसुननेकेबादआदेशसुरक्षितरखलिया.सभीपक्षोंकोलिखिततरीकेसेअपनीबातरखनेकेलिएमंगलवार,11अप्रैलतककासमयदियागयाहै.