शारीरिक शिक्षा

लखनऊ,विधिसंवाददाता। भारतमेंअवैधरुपसेरहनेकेमामलेमेंबांग्लादेशीनागरिकउमरमोहम्मदउस्मानीऔरतनवीरकोएटीएसकीविशेषअदालतनेचार-चारसालकीसजासुनाईहै।साथहीइनदोनोंपरअलगअलगसाढ़ेपांचहजारकाजुर्मानाभीलगायागयाहै।यहदोनोंबाप-बेटेहैंऔरबांग्लादेशकेजिलाकोक्सबाजारकेरहनेवालेहैं।

साल2021मेंएटीएसनेइनदोनोंकोसहारनपुरसेगिरफ्तारकियाथा।यहलोगफर्जीदस्तावेजोंकेजरिएअवैधरुपसेभारतमेंनिवासकररहेथे।इनकेपाससेआधारकार्ड,वोटरकार्ड,पैनकार्ड,आयऔरजातिप्रमाणपत्रतथाड्राइविंगलाइसेंससमेतकईदस्तावेजबरामदहुएथे।हालांकिविचारणकेदौरानअदालतमेंबापबेटेनेअपनागुनाहकबूलकरलियाथा।इसमामलेकीएफआइआरलखनऊमेंथानाएटीएसमेंदर्जहुईथी।विवेचनाकेबादइनकेखिलाफधोखाधड़ीऔरफर्जीदस्तावेजतैयारकरनेआदिकेसाथहीविदेशीऔरपासपोर्टअधिनियमकीधाराओंकेतहतआरोपपत्रदाखिलहुआथा।

दुष्कर्मकेआरोपीको20सालकीकैद:उधर,एककिशोरीसेदुष्कर्मकेमामलेमेंपाक्सोकीविशेषअदालतनेअभियुक्तइमरानअंसारीकोदोषीकरारदियाहै।विशेषजजरामबिलासप्रसादनेआरोपीकोदोषीमानतेहुए20सालकैदकीसजासुनाईहै।साथहीइसपर50हजारकाअर्थदंडभीलगायागयाहै।सरकारीवकीलशशिपाठकनेबतायाकि21जनवरी2018कोइसमामलेकीएफआइआरपीड़िताकेपितानेथानाबाजारखालामेंदर्जकराईथी।