शारीरिक शिक्षा

पाकुड़:त्योहारोंकादेशमानेजानेवालेभारतमेंभाई-बहनकेप्रेमवपवित्ररिश्तेकाप्रतीकरक्षाबंधनऔरभैयादूजदोमहत्वपूर्णत्योहारहै।दोनोंहीत्योहारोंमेंभाईऔरबहनएक-दूसरेकेप्रतिपरंपरागततरीकेसेस्नेहप्रकटकरतेहैं।जहांबहनेंअपनेभाइयोंकीतरक्कीकीकामनाकरतीहैं,वहींभाईअपनीबहनकीहरपरिस्थितिमेंरक्षाकरनेकासंकल्पलेतेहैं।रक्षाबंधनकात्योहारश्रावणमासकीपूर्णिमायानीआजसोमवारकोमनायाजाएगा।बहनोंनेतैयारीपूरीकरलीहै।हालांकिइसबारकोरोनाकालमेंपर्वमनानेकीशैलीबिल्कुलबदलगईहै।अधिकतरबहनेंइसबारभाईकेघरजानेकेबजाएउसेऑनलाइनहीरक्षाबंधनकीबधाईदेंगी।हालांकिकुछबहनेंभाईकेपसंदराखीघरमेंहीबनाई।महेशपुरकेबाजारमेंनहींदिखीरौनक:कोरोनासंक्रमणकेकारणइसबाररक्षाबंधनफीकाहोनेकीसंभावनाहै।राखीकेव्यापारियोंपरभीअसरदेखाजारहाहै।पिछलेवर्षबाजारोंमेंकाफीचहल-पहलथी।बाजारभीपूरीतरहसजेहोतेथे।मिठाईविक्रेताभीतैयारीकरलेतेथे।इसबारबाजारमेंरौनककाफीकमहै।दुकानदारोंनेबतायाकिइसबारराखीकात्योहारकोरोनामहामारीकीभेंटचढ़गया।इसबारसामानकीबिक्रीगतवर्षोंकेमुकाबलेकाफीकमहुई।

रक्षाबंधनकोलेजमकरहुईखरीदारी:रक्षाबंधनकेएकदिनपूर्वरविवारकोबाजारोंमेंरौनकरही।बहनोंमेंइसपर्वकोलेकरखासाउत्साहहै।जिसकेचलतेरविवारकोबाजारोंमेंजमकरखरीदारीहुई।ग्रामीणक्षेत्रोंकेलोगभीशहरमेंखरीदारीकेलिएपहुंचे।बाजारमेंसुबहसेदेरराततकचहल-पहलरही।

By Davey