शारीरिक शिक्षा

पांचराज्योंमेंचुनावकेनतीजेबतारहेहैंकेंद्रमेंअभीपीएममोदीकाजादूबरकरारहै.अगरखुदप्रधानमंत्रीकेलफ्जोंमेंहीकहें2022केआंकड़े2024कारास्ताखुलाहुआदिखारहेहैं.बातफाइनलसेमीफाइनलकीनभीकरेंतोकमसेकमइतनातोकहाहीजासकताहैकिलोकसभाचुनावसेदोसालपहलेतकसत्ताकेखिलाफकोईलहरबनतीदिखाईनहींदेरही.ऐसेमेंभारतकीअर्थव्यवस्थाकोदुनियाकेतीसरेनंबरकीअर्थव्यवस्थाबनानेकारास्तासाफदिखाईदेरहाहै.पीएममोदीचाहेंतोबड़ेआर्थिकफैसलेबिनाचुनावीडरकेलेसकतेहैं.

देशविदेशकेअर्थशास्त्रियोंकामाननाहैकि2024कीतैयारीकेमद्देनजरप्रधानमंत्रीकोकड़ेफैसलेलेनेसेकोईरोकनहींसकताऔरकिसानबिलवालीहालतअबदोबाराकिसीदूसरेआर्थिकसुधारमेंहोतादिखाईनहींदेता.सरकारकड़ेऔरजरूरीफैसलेलेसकतीहै.देशकीइकनॉमीइसवक्तपौनेतीनट्रिलियनडॉलरकीहैऔरपीएममोदीकासपनाहैकि2024तकभारतकीइकॉनमी5ट्रिलियनडॉलरकीहोजाए.लेकिनइसकेरास्तेमेंकईरोड़ेहैं-

देशकीसरकारकेसामनेचुनौतियांबहुतसारीहैंलेकिनयेभीतयहैकिएकनएकदिनभारतकीइकनॉमीपांचट्रिलियनकीहोनीहीहैतोआजक्योंनहीं.जितनीजल्दीहोसकेदेशकेअंदरसप्लाईडिमांडग्राफकोवापसपटरीपरलानेकीजरूरतहोगी.साथहीअंतरराष्ट्रीयमुद्रास्फीतिसेबचावकरनेकेलिएआत्मनिर्भरतापरजोरदेनेकीजरूरतहोगी.प्रधानमंत्रीकावोकलफॉरलोकलभीआजकीस्थितिसेबाहरनिकालनेमेंदेशकीअर्थव्यवस्थाकेलिएएकबहुतबड़ामंत्रसाबितहोसकताहै.

GDPबढ़ानेकेलिएक्याकरनेकीजरूरत

केंद्रसरकारकोजीडीपीबढ़ानेकेलिएदेशमेंकईतरहकेबड़ेआर्थिकसुधारकरनेकीजरूरतहै.जैसे-बैंकरप्सीकोडमेंबदलाव,श्रमकानूनमेंजरूरीसुधार,कॉर्पोरेटप्रॉफिटटैक्स,इंडस्ट्रियलरिलेशनकोड.देशकीसरकारकोप्राइवेटाइजेशनऔरविनिवेशपरभीतेजीसेकामकरनेकीजरूरतहै.इससेव्यापारकेबढ़नेकेसाथसाथरोजगारबढ़ानेमेंभीमददमिलेगी.ऐसीकईऔरचुनौतियांभीहैंजिनकासामनाकरनेकेलिएसरकारकोमजबूतीदिखानेकीजरूरतहै.

भारतआर्थिकतौरपरस्थिरऔरमजबूतदेशहैयहांकीआबादीअपनेआपमेंकईदेशोंकीइकनॉमीचलासकतीहै.ऐसेमेंसरकारकेसामनेफैसलोंकेलिएखुलामैदानहैजिसमेंमजबूतीसेकदमरखतेहुएआगेबढ़नेकीजरूरतहै.

येभीपढ़ें-

लॉकडाउनमेंगरीबोंकोपूड़ी-सब्जीबांटनेवालेसफाईकर्मचारीनेविपक्षकोदीमात,अबPMमोदीपरकहीयेबड़ीबात

दिल्लीमेंयूपीकीसरकारपरमंथनजारी,20या21मार्चको57मंत्रियोंकेसाथशपथलेसकतेहैंयोगी

By Cooper