शारीरिक शिक्षा

नयीदिल्ली,चारजनवरी(भाषा)प्रधानमंत्रीनरेंद्रमोदीनेऔषधिनियामकद्वारादोटीकोंकेसीमितआपातइस्तेमालकोमंजूरीदिएजानेकेएकदिनबादसोमवारकोकहाकिदेशमेंकोरोनावायरसकोकाबूकरनेकेलिएदुनियाकासबसेबड़ाटीकाकरणअभियानशुरूहोनेवालाहै।उन्होंने‘भारतमेंनिर्मित’टीकोंकेलिएवैज्ञानिकोंएवंतकनीशियनोंकीप्रशंसाकरतेहुएकहाकिदेशकोउनपरगर्वहै।मोदीनेकहा,‘‘भारतमेंदुनियाकासबसेबड़ाकोविड-19टीकाकरणकार्यक्रमशुरूहोगा।इसकेलिए,देशकोअपनेवैज्ञानिकोंएवंतकनीशियनोंकेयोगदानपरगर्वहै।’’मोदीनेराष्ट्रीयमापपद्धतिसम्मेलनमेंवैज्ञानिकोंकोसंबोधितकरतेहुएकहाकियहसुनिश्चितकरनाहोगाकि‘भारतनिर्मित’’उत्पादोंकीनकेवलवैश्विकमांगहो,बल्किउनकीवैश्विकस्वीकार्यताभीहो।उन्होंनेकहा,‘‘किसीउत्पादकीगुणवत्ताउसकीमात्राजितनीहीमहत्वपूर्णहै।‘आत्मनिर्भरभारत’केलक्ष्यकोहासिलकरनेकीदिशामेंकदमबढ़ानेकेसाथ-साथहमारेमानकभीऊंचेहोनेचाहिए।’’उल्लेखनीयहैकिभारतकेऔषधिनियामकनेसीरमइंस्टीट्यूटऑफइंडियाद्वारानिर्मितऑक्सफोर्डकोविड-19टीके‘कोविशील्ड’औरभारतबायोटेककेस्वदेशमेंविकसितटीके‘कोवैक्सीन’केदेशमेंसीमितआपातइस्तेमालकोरविवारकोमंजूरीदेदी,जिससेव्यापकटीकाकरणअभियानकामार्गप्रशस्तहोगयाहै।