शारीरिक शिक्षा

औरंगाबाद(महाराष्ट्र):चीनकेवुहानशहरसेहालहीमेंलौटेएकछात्रनेजबवहांकेहालातकेबारेमेंबतानाशुरूकियातोऐसालगाजैसेवहकिसीफिल्मके‘भूतहा’शहरकीबातकररहाहो.उसनेबतायाकिपूराशहरवीरानपड़ाहुआहै,सड़कें/गलियांसुनसानहैं,सार्वजनिकपरिवहनबिल्कुलनाकेबराबरदिखरहेहैं.वुहानकेपासस्थितएकविश्वविद्यालयसेएमबीबीएसकीपढ़ाईकरनेवालेछात्रआशीषकुर्मेनेबतायाकिकोरोनावायरससंक्रमणकापहलामामला8दिसंबर2019कोआयाथालेकिनउसकेइसकदरफैलजानेकीसूचनाउन्हेंजनवरीकेपहलेहफ्तेमेंमिली.

महाराष्ट्रमेंलातूरजिलानिवासीकुर्मेभीउनभारतीयोंमेंशुमारथे,जिन्हेंवायरसकाखतराबढ़नेकेबादचीनसेवापसलायागयाथा.कुर्मेनेबतायाकिशुरुआतमेंशहरमेंकहींभीआने-जानेपररोकनहींथीलेकिनकोरोनाकेमामलेबढ़नेकेसाथहीसबकुछबंदकरदियागया.आवाजाहीपरप्रतिबंधलगादियागया.मराठीसमाचारचैनल‘एबीपीमांझा’सेगुरुवाररातकोबातचीतमेंकुर्मेनेबतायाकिविश्वविद्यालयमें27दिसंबर2019से3जनवरी2020केबीचपरीक्षाएंहुईं.उन्होंनेकहाकिपहलामामलाआठदिसंबरकोसामनेआयालेकिनउन्हेंइसकीजानकारीजनवरीकेपहलेहफ्तेमेंहुई.

कुर्मेनेदावाकिया,‘‘वुहानकीसड़कोंपरलाशेंपड़ीहोनेकीवीडियोपूरीतरहफर्जीहैं.उन्होंनेकहाकिभारतआनेकेबादमुझेऐसेवीडियोकापताचला.’’उन्होंनेकहा,‘जनवरीकेपहलेहफ्तेसेहीप्रतिदिनशरीरकेतापमानकीनिगरानीशुरूकरदीगईथी.हमलोगआरामसेघूमरहेथेऔरमैं23जनवरीतकअपनेदोस्तोंकेपासऔरबाजारभीगया.लेकिनइसदिनतालाबंदीकीघोषणाकीगईऔरहमारीआवाजाहीरोकदीगई.’

कुर्मेनेबताया,‘हमेंअपनेघरोंमेंबंदकरदियागयाऔरहमारेंशिक्षकोंनेहमारीजरूरतोंकाध्यानरखा.जबतकहमवहांथे,किसीचीनीनागरिककोहमारेप्रांगणमेंप्रवेशकरनेकीइजाजतनहींथी.’हालातबिगड़नेकेबादहमनेघरलौटनेकाफैसलाकिया.कुर्मेनेकहा,‘‘हमेंमास्कदिएगएथे.तालाबंदीकेबादहमारेस्वास्थ्यकीकड़ीनिगरानीकीजारहीथी.हमनेभारतवापसजानेकाफैसलालियालेकिनपताचलाकिवुहानहवाईअड्डाबंदहै.’’

एमबीबीएसछात्रनेबतायाकिबीजिंगस्थितभारतीयउच्चायोगनेबसकाइंतजामकियाऔरहमेंहवाईअड्डेलायागया.उन्होंनेबतायाकिवापसआनेकेबादमुझे14दिनोंकेलिएपृथकरखागयाऔरअवलोकनकीअवधिपूरीहोनेकेबादघर(लातूर)भेजदियागया.कोरोनावायरससेसर्वाधिकप्रभावितचीनमेंइसकेचलतेतीनहजारसेअधिकलोगोंकीमौतहोचुकीहै.

By Cooper