शारीरिक शिक्षा

रांची,[दिलीपकुमार]।सत्ताकाचोलाक्याबदला,खाकीवालेविभागकेचेहरेभीबदलनेशुरूहोगए।जोकभीतीसमारखांथे,आजउन्हेंकोईपूछनहींरहाहै।जोहाशिएपरथे,वेमुख्यधारामेंआगएहैं।राजधानीमेंअखिलेशवसुरेंद्रजहांपुलिसिंगमेंमैथिलसंस्कृतिकारंगभरनेजारहेहैं,वहींराजस्थानसेआनेवालेमुरारीजीअबखुफियागिरीकरेंगे।मल्लिकसाहबतोबिहारीठहरे।इतनेभारीनिकलेकिकोईभीकुर्सीज्यादादिनतकउनकावजनउठानेकीस्थितिमेंनहींरहती।तीनमहीनेमेंहीखुफियाविभागवालीकुर्सीक्याटूटी,उन्हेंहाउसिंगप्रोजेक्टकेनएअसाइनमेंटपरभेजदियागया।अपराधियोंकेपीछेदौड़-दौड़करथकचुकेरांचीकेकप्तानसाहबअबचैनकीवंशीबजाएंगे।झंझटसेदूरडोरंडाकेमैदानमेंदौड़लगाएंगे।खुदभीदौड़ेंगेऔरदूसरोंकोभीदौड़ाएंगे।

परेशानहैंबाबा

खाकीवालेविभागमेंचारसालतकएकहीकुर्सीपरजड़वतरहेबाबाइनदिनोंपरेशानहैं।सेवानिवृत्तिकेबादसोचाथाकिसपनोंकेआशियानेमेंचैनकीवंशीबजाएंगे,परऐसाहोनसका।पहलेघरपरनजरलगी,जमाबंदीतकरदहोनेकीतैयारीहै।इससेउबरेभीनहींथेकिसुख-चैनकोपलीताबहूनेलगादियाहै।वैसेअपनेस्वर्णिमदिनोंमेंआधीआबादीकोबाबानेखूबइज्जतदी,लेकिननजानेकिसकीआहलगगई।बागीबनीबहूकोबेटेसेतलाकदिलवाकरघरसेबाहरक्यानिकाला,वहतोज्योतिसेज्वालाबनगई।इज्जतकोऐसापलीतालगायाकिनजरतकनहींमिलापारहेहैंकिसीसे।सबसमयकीलीलाहै।खाकीसेखादीअपनानेकीजुगतमेंलगेथे,जोगियावस्त्रधारणकरनेकीनौबतआगईहै।समयसेसबकुछछीनलियाहै।लेकिन,बाबाभीकमनहींहैं।कहतेहैं,घरमेंपति-पत्नीऔरवोकानाटककबतकहोनेदेते।दावाकरतेहैंविवादकोमुकामतकपहुंचाएंगे,चाहेजितनेदांवआजमानेपड़े।

खिलाएकिडकारे,देंहिसाब

देश-दुनियाकाचैनलूटनेवालेकोरोनावायरसकेचलतेहरकोईपरेशानहैलेकिनकुछऐसेभीहैंजोलहरोंकीगिननाजानतेहैं।इनकीझोलीहरपरिस्थितिमेंभरीहीरहतीहै।समाजसेवाकेनामपरकुछमालदबालेनेमेंइन्हेंकहींकोईपापनजरनहींआताहै।अबइसीछूटकीखोजशुरूहोगईहै।गरीबों-असहायोंकोसबसेज्यादानिवालापहुंचानेवालीखाकीसेहिसाब-किताबमांगागयाहै।लेखा-जोखारखनेवाले,मालडकारनेवालोंकीतोंदकोइंच-टेपसेनापरहेहैं।अन्नकेएक-एकदानेकाहिसाबमांगरहेहैं।गणितकीपरीक्षामेंफिसड्डीरहनेवालेसाहेबअबपाई-पाईकाहिसाबमिलारहेहैंऔरकोरोनाकीघड़ीकोकोसरहेहैं।

सरकारमेंभ्रष्टाचारियोंकोपकडऩेवालेविभागअपना-अपनापावरदिखारहेहैं।आरोपकितनाभीबड़ाहो,जांचकेपहलेबिरादरीदेखीजारहीहै।आजतेरी,तोकलमेरीबारी,काभयजबसतानेलगातोनिगरानीरखनेवालोंनेनियमवकानूनकोहीबदलडाला।कितनीमेहनतसेजिममेंपसीनाबहाकरअपनेहाथकोमजबूतकियाथाकिभ्रष्टलोकसेवकोंकीगर्दनपकड़ेंगे,लेकिनकौरवसेनाकेसामनेचलनहींरही।सभीचक्रव्यूहमेंफंसाकरउसहाथकेपीछेपड़ेहैं,ताकिउसेगर्दनदबोचनेकेपहलेहीकाटसकें।पर,ऐसाहोतादिखनहींरहाहै।उन्हेंनहींपताकियहमहाभारतकालकीलड़ाईनहींहै।जिसकेपीछेवेपड़ेहैं,वहधु्रवताराहै,जोहरवक्तचमकतेहैं।लाखकोशिशकरलें,उनकीचमकफीकीनहींहोगी।संभलकर,हाथकटभीगयातोगमनहीं,वहभ्रष्टाचारियोंकोतोअपनीतेजसेमारडालेंगे।

By Craig