शारीरिक शिक्षा

(योषितासिंह)न्यूयॉर्क,11नवंबर(भाषा)अमेरिकामेंएकप्रमुखहिंदूसंगठनकोएकअद्यतनमुकदमेमेंनएआरोपोंकासामनाकरनापड़रहाहैकिउसनेभारतसेआएमजदूरोंकोलालचदियाऔरसैकड़ोंश्रमिकोंकोदेशभरमेंअपनेमंदिरोंमेंकममजदूरीपरकामकरनेकेलिएमजबूरकिया।इससालमईमें,भारतीयश्रमिकोंकेएकसमूहनेबोचासनवासीअक्षरपुरुषोत्तमस्वामीनारायणसंस्था(बीएपीएस)केखिलाफमानवतस्करीएवंमजदूरीकानूनकेउल्लंघनकाआरोपलगातेहुएअमेरिकीजिलान्यायालयमेंएकमुकदमादायरकियाथा।इसमेंकहागयाथाकिउन्हेंरोकागयाऔरन्यूजर्सीमेंविशालस्वामीनारायणमंदिरकेनिर्माणकेलिएलगभगएकडॉलरकीमजदूरीपरकामकरनेकेलिएमजबूरकियागया।‘न्यूयॉर्कटाइम्स’समाचार-पत्रनेबुधवारकोएकखबरमेंबतायागयाकिन्यूजर्सीसंघीयअदालतमेंदायरवादमेंपिछलेमहीनेसंशोधनकियागयाथा।इसमेंबीएपीएसपर“भारतसेमजदूरोंकोअटलांटा,शिकागो,ह्यूस्टनऔरलॉसएंजिलिसकेआस-पासकेऔरन्यूजर्सीकेरॉबिन्सविलेकेमंदिरोंमेंमहज450डॉलरप्रतिमाहकीमजदूरीपरकामकरानेकेलिएफुसलाकरलाएजाने”काआरोपहै।खबरमेंकहागया,“संशोधितमुकदमेमेंदेशभरकेमंदिरोंकोशामिलकरनेकेआरोपोंकोऔरव्यापककियागयाजिसमेंकुछऔरलोगोंनेकहाकिउन्हेंभीकामपरभेजागयाथा।वादमेंआरोपहैकिसैकड़ोंश्रमिकोंकासंभवत:शोषणकियागया।”न्यूयॉर्कटाइम्सकीमईकीखबरमेंकहागयाथाकिशिकायतमेंउनछहलोगोंकेनामहैंजोधार्मिकवीजा‘आर-1वीजा’पर2018कीशुरुआतसेअमेरिकालाएगएकरीब200भारतीयनागरिकोंमेंशुमारथे।इसमेंकहागयाथाकि“न्यूजर्सीवालेमंदिरनिर्माणस्थलपरइनलोगोंसेअक्सरखतरनाकपरिस्थितियोंमेंकईघंटों”तककामकरायाजाताथा।इंडियासिविलवॉचइंटरनेशनल(आईसीडब्ल्यूआई)संगठननेमईमेंपीटीआई-भाषाकोदिएएकबयानमेंकहाथाकि11मईकोतड़केएफबीआईनीतछापेमारीमेंन्यूजर्सीकेरॉबिंसविलेमेंस्वामीनारायणमंदिरपरिसरसेलगभग200श्रमिकोंकोनिकालागया,"जिनमेंसेज्यादातरदलित,बहुजनऔरआदिवासी"थे।यहअमेरिकाकासबसेबड़ाहिंदूमंदिरमानाजाताहै।खबरमेंबतायागयाकिसंशोधितशिकायतमेंबीएपीएसकेअधिकारियोंपर,“देशकेश्रमकानूनोंतथाधोखाधड़ीयुक्तएवंभ्रष्टसंगठननिषेधकानूनकेउल्लंघन”काआरोपलगायागयाहै।”

By Connor