शारीरिक शिक्षा

जागरणसंवाददाता,बक्सर:देशमेंतेजीसेहोरहेलिगअनुपातकाअंतरगंभीरचिताकाविषयबनाहुआहै।इसकोदेखतेहुएसरकारकेद्वारामहिलाओंकीशिक्षा,स्वास्थ्यतथाअन्यजरूरतोंकेलिएकईयोजनाएंचलाईगईहैं।इन्हींमेंसेएकहैसुकन्यासमृद्धियोजना।जिसेकेंद्रसरकारनेलड़कियोंकीशिक्षाकोबढ़ावादेनेकेउद्देश्यसेशुरूकियाहै।योजनाकेशुरूआतीदौरमेंलोगोंकाइसयोजनाकेप्रतिजबरदस्तआकर्षणथा।पर,हालमेंहुएब्याजदरोंमेंकमीकेबादअबजमाकर्ताओंकीरूचियोजनाकेप्रतिकमहोनेलगीहै।केंद्रसरकारनेसुकन्यासमृद्धियोजनाबेटियोंकीपढ़ाईऔरउनकीशादीपरआनेवालेखर्चकोदेखतेहुएशुरूकियाथा।यहयोजनाउनकीजरूरतोंकोपूराकरनेमेंसक्षमथी।जिसमेंछोटेसेनिवेशसेभविष्यमेंबेटियोंकेलिएएकबड़ीपूंजीखड़ीहोजातीथी।जिससेअभिभावकबेटियोंकीजरूरतोंकोपूराकरनेमेंसक्षमथे।योजनाकेतहतबेटीकेनामसेखोलेगएअकाउंटमेंएकसालमेंएकहजारसेलेकरडेढ़लाखरुपयेतकजमाकिएजासकतेहैं।जिसेमात्र14सालतकहीजमाकरानाथा।बेटीके21सालकेहोनेतकयहयोजनाएकअच्छीरकमदेजातीथी।जिससेअभिभावकबेटीकीपढ़ाईलिखाईसेलेकरउसकीशादीब्याहकेलिएनिश्चितहोसकतेथे।शुरूआतीदौरमेंइसमेंमिलनेवालाब्याजदर9प्रतिशततकथा।परहालमेंसरकारनेयोजनापरदीजानेवालीब्याजदरकोकमकर8.5प्रतिशतकरदियाहै।जिसकेबादलोगोंकीयोजनाकेप्रतिरूचिमेंकमीआनेलगीहै।क्याहैसुकन्यासमृद्धियोजना

कोईभीअभिभावकइसयोजनामेंअधिकतमअपनीदोबेटियोंकाअकाउंटखोलवासकताहै।जिसमेंप्रतिवर्षएकहजाररुपयान्यूनतमसेलेकरअधिकतमडेढ़लाखतकजमाकियाजासकताहै।अकाउंटमेंसिर्फ14सालतकहीपैसाजमाकरनाहोताहै।जबकिउसकीमैच्युरिटीलड़कीके21वर्षपूराहोनेअथवा18से21वर्षकेबीचबेटीकीशादीहोनेपरस्वत:बंदहोजातीहै।सुकन्यायोजनाकेखातोंपरआयकरकानूनकीधारा80-जीकेतहतछूटदिएजानेकाप्रावधानहै।अकाउंटकेलिएआवश्यकदस्तावेज

योजनामेंबेटीकेनामअकाउंटखोलनेकेलिएकोईबहुतज्यादाकागजातोंकीजरूरतनहींहोतीहैऔरनइसमेंकोईविशेषसमयलगताहै।इसकेलिएबच्चीकेजन्मप्रमाणपत्रकेअलावाएड्रेसप्रूफतथाआईडीप्रूफदेनाहोताहै।इतनेदस्तावेजसेहीडाकघरकेअलावाकईबैंकोंमेंभीबच्चीकेनामखाताखोलकरउसकासंचालनकियाजासकताहै।कितनीहोगीमैच्युरिटी

मौजूदासमयब्याजदरोंमेंकटौतीकेबादयदिकोईव्यक्तिअपनीबेटीकेनामसुकन्यासमृद्धियोजनामेंखाताखोलकर10हजाररुपयाप्रतिमाहजमाकरताहैतो15सालमेंकुल18लाखरुपयेजमाकरनापड़ेगा।जबकिउसकीमैच्युरिटीपरअभिभावकको57,81,687रुपयेमिलेंगे।इसमें39,81,687रुपयेब्याजकाशामिलहै।जबकि9प्रतिशतब्याजदरकेसाथयहराशिकाफीज्यादाहोरहीथी।ब्याजदरोंमेंकमीसेआकर्षणघटा

जिससमययोजनाशुरूकीगईथीतबब्याजदर9प्रतिशतचक्रवृद्धिब्याजकीदरसेदियाजारहाथा।इसबीचहालमेंकेंद्रसरकारकेनियमोंमेंहुएसंशोधनकेबादअबब्याजदरोंमेंकटौतीकरतेहुए8.5प्रतिशतकरदियागयाहै।ब्याजदरोंमेंइसमामूलीकटौतीसेमैच्युरिटीपरमिलनेवालीराशिमेंकाफीअंतरआगयाहै।जिसकोदेखतेहुएलोगोंकीयोजनाकेप्रतिरूचिकमहोनेलगीहै।हालांकिइसयोजनाकेशुरूहोनेसेअबतकब्याजदरोंमेंकईबारकमऔरअधिककियाजाचुकाहै।बयान:

सुकन्यासमृद्धियोजनाकीशुरूआतकेबादसेअबतककईबारब्याजदरोंमेंपरिवर्तनकियाजाचुकाहै।पर,इसबारकिएगएपरिवर्तनकेबादइसमेंनिवेशकोंकीसंख्यामेंकाफीकमीआईहै।महावीरउपाध्याय,मुख्यडाकपाल,प्रधानडाकघर,बक्सर।

By Dale