शारीरिक शिक्षा

संवादसहयोगी,बिलासपुर:चंडीगढ़-मनालीमार्गकहनेकेलिएतोउच्चमार्गहैलेकिनइसकीदशापरनजरदौड़ाईजाएतोइसकीहालतकिसीसंपर्कमार्गसेभीबदतरहै।हैरानीकीबातहैकिविभागकीनजरभीइनगड्ढोंकीओरनहींजारहीहै।अबबरसातकामौसमशुरूहोनेवालाहै,ऐसेमेंसड़ककीहालतऔरभीबदतरहोनेवालीहै।

नौणीसेकैंचीमोड़तक41किलोमीटरतकसड़ककेहालातदयनीयहै।इसमार्गपरहररोजहजारोंवाहनोंकीआवाजाहीहोतीहै।यहमार्गबिलासपुरकीअतिव्यस्तसड़कोंमेंसेएकहै।इसमार्गकीदेखरेखकाजिम्माएनएचएआइकेपासहैलेकिनएनएचएआइइसकीदेखरेखनहींकररहाहैजिसकारणयहमार्गलंबेसमयबदहालहै।

बिलासपुरवस्वारघाटकेसाथलगतेकैंचीमोड़केमध्यतोसड़ककीहालतबेहदखराबहै।मार्गमेंभीबड़े-बड़ेगड्ढेबनगएहैं।मार्गपरहरसमयदुर्घटनाकीआशंकाबनीरहतीहै।चंडीगढ़सेमनालीसबसेव्यस्तसड़कोंमेंसेएकहैक्योंकिइससड़ककाप्रयोगकेवलपर्यटकहींनहींबल्किबरमाणातथासोलनक्षेत्रमेंलगीसीमेंटफैक्टरियोंमेंसीमेंटढोनेकेलिएलगेवाहनभीप्रयोगकरतेहैं।इससड़कपरकईस्थानोंपरतीखेमोड़हैंलेकिनकहींभीकोईसूचकबोर्डनहींहैजिसवजहसेबाहरसेआनेवालेपर्यटकोंकोकाफीदिक्कतोंकासामनाकरनापड़ताहै।

वहींइससंबंधमेंअधिशाषीअभियंतागुरमिंद्रराणानेबतायाकियहराजमार्गएनएचएआइकेपासहै।2009और2010केबीचएनएच-205काकामएनएचएआइद्वाराकरवायागयाथाउसकेबादएनएचएआइनेइसकीदेखरेखकाजिम्मालोकनिर्माणविभागकोसौंपाऔरविभागकोबजटदियाजाताहै।2015और2016मेंएनएचआइने1.5करोड़रुपयेलोकनिर्माणविभागकोदीगईथीजिससेनौणीसेकैंचीमोड़केबीचथोड़ेसेएरियामेंगड्ढेभरनेकाकार्यकियागयाथा।उन्होंनेबतायाकिलोकनिर्माणविभागनेजूनमेंएनएचएआइको20.80करोड़काप्रस्तावरखाहैजिससेनौणीऔरकैंचीमोड़केबीचकाकार्यकियाजाएगालेकिनएनएचएआइने13.65करोड़काबजटउपलब्धकरवायाहै।बजटआनेकेबादजल्दहीइसराजमार्गकाकार्यकियाजाएगा।

By Collins