शारीरिक शिक्षा

बेंगलुरुचंद्रमाकेदक्षिणीध्रुवपरकालीअंधेरीरातछानेकेसाथहीभारतकेमहत्‍वाकांक्षीचंद्रमिशनचंद्रयान-2केलैंडरविक्रमसेसंपर्ककीसभीउम्‍मीदेंखत्‍महोगईहैं।विक्रमसेसंपर्कटूटनेकेबाद14दिनोंतकलोगफिरसेसंपर्कजुड़नेकीआसलगाएबैठेथेलेकिनशनिवारतड़केसेचंद्रमापररातशुरूहोनेकेसाथहीअबसंपर्ककीसारीसंभावनाएंखत्‍महोगईहैं।लाखप्रयासकेबादभीविक्रमसेसंपर्कनहोनेपरअबयहसवाललोगोंकेजेहनमेंकौंधरहाहैकिचंद्रमाकीसतहपरबेजानपड़ेविक्रमकाहालकैसाहै?चंद्रमाकीसतहपरमाइनस173ड‍िग्रीसेल्सियसकीजमादेनेवालीठंडझेलनेकेबादविक्रमकाहालकैसाहोगा?इनसभीप्रश्‍नोंकाजवाबअगलेमहीनेनासादेसकताहै।अमेरिकीअंतरिक्षएजेंसीनासाकेलूनररिकॉनसेंसऑर्बिटर(एलआरओ)केप्रॉजेक्‍टसाइंटिस्टनोआ.ई.पेत्रोनेनवभारतटाइम्‍सऑनलाइनसेबातचीतमेंकहा,'एलआरओ17सितंबरकोउसस्‍थानसेगुजराथाजहांपरविक्रमगिराहै।उससमयचंद्रमापरशामहोरहीथी।अंधेरेकीकालीछायानेचंद्रमाकेएकबड़ेहिस्‍सेकोअपनेआगोशमेंलेलियाथा।एलआरओनेलैंडिंगसाइटकीतस्‍वीरलीलेकिनविक्रमकेगिरनेकीअसलीजगहपतानहींथी,इसलिएकैमराबहुतस्‍पष्‍टतस्‍वीरेंनहींलेसका।'अब17अक्‍टूबरकोलैंडिंगएरियासेगुजरेगाएलआरओपेत्रोनेकहाकिअभीताजातस्‍वीरोंकीजांचचलरहीहै।हालांकिइसबातकीप्रबलसंभावनाहैकिशामहोनेकीवजहसेविक्रमकेलैंडिंगएरियामेंछायाआगईहोयाफिरजिनजगहोंकीतस्‍वीरेंलीगईहैं,उसजगहपरअंधेराछागयाहो।उन्‍होंनेकहा,'नासाकाएलआरओअब14अक्‍टूबरकोलैंडिंगसाइटसेफिरगुजरेगा।उससमयचंद्रमापरदिनहोगाऔरअच्‍छीतस्‍वीरेंलीजासकेंगी।नासा17अक्‍टूबरकीतस्‍वीरोंकीजांचकेबादजल्‍दहीइसकेपरिणामदुनियाकोबताएगा।'इसबीचइसरोकेचेयरमैनकेसिवननेभीशनिवारकोमानाकिलैंडरविक्रमसेउनकासंपर्कनहींहोसकाहै।सिवननेकहाकिचंद्रयान-2काऑर्बिटरबहुतअच्‍छाकामकररहाहै।इसमेंलगेसभी8उपकरणसहीहैंऔरअपनाकामकररहेहैं।बतादेंकिलैंडरकाजीवनकालएकचंद्रदिवसयानीकिधरतीके14दिनकेबराबरथा।7सितंबरकोतड़के‘सॉफ्टलैंडिंग’मेंअसफलरहनेपरचांदपरगिरेलैंडरकाजीवनकालकल(शनिवारको)खत्महोगया।सातसितंबरसेलेकर21सितंबरतकचांदकाएकदिनपूराहोगया।गौरतलबहैकिनासाकाएलआरओचंद्रमाकीसतहसे50किमीऊंचाईपरचक्‍करकाटरहाहैजबकिभारतकाऑर्बिटरकरीब100किमीकीऊंचाईपरहै।नासाकाएलआरओइसरोकेऑर्बिटरसेज्‍यादाअच्‍छीतस्‍वीरेंलेसकताहै।नासाकेएलआरओनेहीइजरायलकेलैंडरकीतलाशकीथी।नासाकोभीविक्रमकेहालजाननेकाइंतजारदरअसल,नासाकोभीविक्रमकेसॉफ्टलैंडिंगमेंआईदिक्‍कतकेकारणोंकीजांचकाबेसब्रीसेइंतजारहै।नासाभीअगलेवर्ष2021मेंचंद्रमाकेदक्षिणीध्रुवपरअपनामानवयुक्‍तमिशनभेजनेकीतैयारीकररहाहै।विक्रमकेलैंडिंगमेंआईगड़बड़ीपरउसकीबारिकीसेनजरहै।नासाकेएस्‍ट्रोबोटिककेमिशनडायरेक्‍टरशरदभास्‍करननेकहाहैकिइसरोकामिशनबेहदसफलरहाहै।हमारीचुनौतीइसमिशनकोसमझनाहैताकिजबचंद्रमापरदोबाराइंसानकोभेजाजाएतोइसतरहकीगड़बड़ीनहो।अगरडिजाइनमेंकुछबदलावकीजरूरतहोगीतोहमकरेंगे।इससेपहलेइसरोने8सितंबरकोकहाथाकि‘चंद्रयान-2’केऑर्बिटरनेलैंडरकीथर्मलतस्वीरलीहै,लेकिनलाखकोशिशोंकेबावजूदइससेसंपर्कनहींहोसका।इनतस्‍वीरोंसेपताचलाथाकिविक्रमटूटानहीं,बल्किटेढ़ाहोगयाहै।विक्रमलैंडरनिर्धारितजगहकेकरीबहीपड़ाहै।विक्रमकेभीतरहीरोवर‘प्रज्ञान’बंदहैजिसेचांदकीसतहपरवैज्ञानिकप्रयोगकोअंजामदेनाथा,लेकिनलैंडरकेगिरनेऔरसंपर्कटूटजानेकेकारणऐसानहींहोपाया।भारतकोभलेहीचांदपरलैंडरकी‘सॉफ्टलैंडिंग’मेंसफलतानहींमिलपाई,लेकिनऑर्बिटरशानसेचंद्रमाकेचक्करलगारहाहै।इसकाजीवनकालएकसालनिर्धारितकियागयाथा,लेकिनबादमेंइसरोकेवैज्ञानिकोंनेकहाकिइसमेंइतनाअतिरिक्तईंधनहैकियहलगभगसातसालतककामकरसकताहै।चंद्रयान-2:इसरोनेकहा-ऑर्बिटरअपनीकक्षामेंस्थापित,7सालतकचांदकेरहस्योंसेपर्दाउठानेमेंकरेगामदद

By Cooper