शारीरिक शिक्षा

-शहीदसाहबजादोंकोश्रद्धांजलिदेनेवालोंकालगारहातांता

-गुरुद्वाराचरणपादुकासाहिबमेंयादकिएगएअंतिमगुरुकेपुत्रजागरणसंवाददाता,निजामाबाद(आजमगढ़):ऐतिहासिकगुरुद्वाराचरणपादुकासाहिबमेंसोमवारकोगुरुगोविदसिंहजीकेचारोंसाहबजादोंकोश्रद्धांजलिदेनेवालोंकातांतालगारहा।ग्रंथीबाबाजगजीतसिंहनेबतायाकिधर्मकीरक्षाकेलिएगुरुकेपुत्रोंनेशहादतदीथी।

फतेहगढ़किलेमेंसातवर्षकेफतेहसिंह,नौवर्षकेजोरावरसिंहकोदीवारोंमेंचुनवादियागयाथा,जबकि13वर्षकेबाबाजुझारसिंह,17वर्षकेबाबाअजीतसिंहकोचमकौरकीलड़ाईमेंधर्मकीरक्षाकरतेहुएशहीदकरदियागयाथा।शहादतकीसूचनापरदसवेंगुरुगुरुगोविदसिंहनेमौजूदसंगतसेकहाकि

'इनपुत्रनकेसिरपरवारदिएसुतचार,चारमुएतोक्याहुआजीवतकईहजार'।यानीगुरुमहराजनेधर्मकीरक्षामेंबच्चोंकीशहादतपरअफसोसनहींकिया।

गुरुद्वारामेंसुखमणिसाहिब,चौपईसाहिबतथाआनंदसाहिबकेपाठकेबादअरदासहुकुमनामा,सिमरनहुआ।सिमरनकेबादलोगोंमेंकड़ाहप्रसादबरतागया।इसअवसरपरउपस्थितसंगतोंकोग्रंथीबाबाजगजीतसिंहनेगुरुमहाराजकेचारोंसाहबजादोंकेबारेमेंविस्तारसेबतायाकिकैसेकमउम्रमेंहीइनलोगोंनेधर्मकीरक्षाकेलिएअपनेकोइतनाचर्चितकरलियाकिएकदिनशहीदहोनापड़ा।इसअवसरपरगुरुद्वारासाहिबमेंचरणदीपसिंह,राजेंद्रसिंह,राजविदरसिंह,अजयसिंह,दीपकौर,डिपलआफताब,त्रिवेणीआदिउपस्थितथे।

By Cook