शारीरिक शिक्षा

होमआइसोलेशनमेंइलाजरतकोरोनामरीजोंकोऑक्सीजनसिलेंडरसुचारूरूपसेमिलसकेइसकेलिएदिल्लीसरकारनेसिस्टमबनायाहै.जिनलोगों/परिजनोंकोहोमआइसोलेशनमेंइलाजरतकोरोनामरीज़ोंकेलिएऑक्सीजनचाहिएवोदिल्लीसरकारकेपोर्टलपरआवेदनकरसकतेहैं.आवेदनकेसाथफ़ोटो,आधारकार्ड,कोविडपॉजिटिवरिपोर्टजैसीजानकारीभीअपलोडकरें.अगरकिसीमामलेमेंसीटीस्कैनकीरिपोर्टहैतोउसकोभीअपलोडकरसकतेहैं,ताकियहबातबताईजासकेकिमरीजकोऑक्सीजनकीजरूरतहै.

सभीजिलोंकेडिस्ट्रिक्टमजिस्ट्रेटकोकहागयाहैजोभीआवेदनऑक्सीजनकेलिएआए,उसकीछंटाईकेलिएपर्याप्तसंख्यामेंकर्मचारीलगाएजाएंऔरजोलोगऑक्सीजनपानेकेपात्रहों,उनकोई-पासटॉपप्राथमिकतापरजारीकियाजाए.

ऑक्सीजनचाहनेवालेलोगोंकोडीएमकीतरफसेजारीहुआपासमिलेगाजिसमेंयहलिखाहोगाकिकिसतारीखको,किसजगह,किससमयऔरकिसडिपोपरऑक्सीजनसिलेंडरमिलेगा.यहस्टॉककीउपलब्धतापरनिर्भरकरेगा.

डिस्ट्रिक्टमजिस्ट्रेटकोयहभीनिर्देशदिएगएहैंकिऐसेडिपोयाडीलरहीरखेजाएं.जहांपरजाकरव्यक्तिकोऑक्सीजनसिलेंडरसीधेमिलजाए,यहनाहोकिवहव्यक्तिकोकहींऔरसिलेंडरभरवानेकेलिएभेजदे.दिल्लीमेंऑक्सीजनसिलेंडरभरवानेकेलिएअलग-अलगजगहोंऔररीफिलिंगसेंटरपरलगरहीलंबीलाइनेंदेखनेकेबाददिल्लीसरकारनेयहआदेशजारीकिया.औपचारिकआदेशकेमुताबिकगुरुवार6मईसेदिल्लीसरकारकीवेबसाइटपरआवेदनकिएजासकतेहैं.