शारीरिक शिक्षा

दिल्लीकेअस्पतालोंमेंऑक्सीजनकीकिल्लतकीखबरेंतोप्रत्येकदिनसामनेआरहीहै.लेकिनरविवारकोप्राइमसअस्पतालनेसरकारसेअपीलकरतेहुएकहाहैकिउनकेपाससिर्फतीन-चारघंटेकाऑक्सीजनबचाहै.ऐसेमेंअगरअगले2-3घंटोंतकअस्पतालकोऑक्सीजनसप्लाईनहींदियागयातोउनकेकईमरीजोंकीजानजासकतीहै.

उन्होंनेयहभीबतायाहैकिउनकेअस्पतालमेंकईराजनयिकभीभर्तीहै.इसलिएइसतरहकीकिसीभीहालातसेबचनेकेलिएसरकारउन्हेंजल्दसेजल्दऑक्सीजनमुहैयाकराए.

वहींजयपुरगोल्डनहॉस्पिटलभीऑक्सीजनशॉर्टेजझेलरहाहै.अस्पतालनेट्वीटकरबतायाहैकिहमारेपासलगभगतीनघंटेकाहीऑक्सीजनबचाहै.कृपयाकरSOSटॉपअपमेंमददकरें.हमारेपास150मरीजहैंजिनमेंसे70ICUमेंभर्तीहैं.

इससेपहले प्राइमसअस्पतालनेखतलिखकरकहा,मैंआपकीजानकारीमेंयहलानाचाहताहूंकिहमारेपाससिर्फतीनसेचारघंटेकाऑक्सीजनसपोर्टसिस्टमबचाहै.हमलोगलिंडेकंपनीसेशनिवारसेहीबातकररहेहैं.रविवारकोभीपूरेदिनबातकरतेरहे.लेकिनअबतककोईफायदानहींहुआहै.हमारेयहांकईमरीजभर्तीहैं,इनमेंसेकईविदेशीराजनयिकभीहैं.अगरहमेंअगलेदोतीनघंटोंमेंऑक्सीजनसप्लाईनहींकियागयातोअस्पतालकेकईमरीजोंकीजानजासकतीहै.

इसलिएइसतरहकेकिसीभीप्रलयंकारीहालातसेबचनेकेलिएमैंआपकेसामनेहाथफैलातारहाहूंकिकृपयाकरहमाराऑक्सीजनकोटाबढ़ाएं.लेकिनअबतककेसारेअनुरोधकोअनसुनाकरदियागयाहैऔरइसबारेमेंकोईएक्शननहींलियागयाहै.आपसेसहायताकीउम्मीदकरतेहुएआपकाआभारप्रकटकरताहूं.

बतादें,दिल्लीकेआधेदर्जनअस्पतालमेंऑक्सीजनकीभारीकिल्लतहै.इनमेंसेश्रीकृष्णाअस्पताल,जयपुरगोल्डनअस्पताल,आकाशहेल्थकेयरअस्पतालप्रमुखहैं.

कोरोनासंकटकेबीचदिल्लीमेंऑक्सीजनकीकिल्लतकामसलादिल्लीहाईकोर्ट(HC)पहुंचचुकाहै.सुनवाईकेदौरानदिल्लीसरकारकेवकीलनेकहाकिदिल्लीकोऑक्सीजनकाअपनाआवंटितकोटानहींमिलरहाहै.अन्यराज्योंकेविपरीतदिल्लीकोवहनहींमिलरहाहै,जिसकीउसेआवश्यकताहै.केंद्रनेहमेंअपनेयहांटैंकरमंगानेकोकहाहै,हमेंटैंकरकहांसेमिलेंगे?

उधर,तीनबड़ेअस्पतालोंनेऑक्सीजनकीकमीकामुद्दाउठाया.जिसपरHCनेदिल्लीसरकारसेअस्पतालोंकीआवश्यकताओंकोतुरंतदेखनेकेलिएकहा.दिल्लीकेसीतारामभारतीयअस्पताल,वेंकेटेश्वरअस्पतालऔरइंस्टीट्यूटऑफब्रेनएंडस्पाइन,लाजपतनगरनेहाईकोर्टकोबतायाकिउनकेयहांऑक्सीजनकीकिल्लतहै.

वहीं,दिल्लीसरकारकीदलीलऔरकेंद्रकीदलीलसुननेकेबादHCनेकहा​​हैकिराजधानीकोप्राप्तऑक्सीजनआपूर्तिपरकेंद्रऔरदिल्लीसरकारकेआंकड़ोंकेबीचविसंगतियांहैं.