शारीरिक शिक्षा

कानपुर,जेएनएन।कोरोनाकीदूसरीलहरकेदौरानपहलेआक्सीजनकीकमीकोलेकरतमामबयानबाजीहुईंऔरअबआक्सीजनकीकमीसेहुईमौतोंकेनामपरसियासतहोरहीहै।इसमेंभीसबकेअपनेदावेहैं।जहांविपक्षीदलोंकेनेतासरकारकेदावेकोगलतबतारहेहैंवहींभाजपानेताओंकाकहनाहैकिआक्सीजनसंकटजैसेहीसामनेआया,सरकारनेतुरंतट्रेनकेजरिएकानपुरमेंआक्सीजनभेजी।

अप्रैलमेंजबकोरोनाकीदूसरीलहरमेंमरीजोंकीसंख्याबढ़तीचलीजारहीथीऔरधीरे-धीरेअस्पतालफुलहोनेसेमरीजोंकोबेडनहींमिलपारहेथे।यहवहदौरथाजबउद्योगोंकोआक्सीजनकीसप्लाईबंदकरदीगईथी।15से20टनप्रतिदिनकीमेडिकलआक्सीजनकीमांगबढ़ते-बढ़ते125टनतकपहुंचचुकीथी।खुदमंडलायुक्तने125टनआक्सीजनकीखपतकापत्रशासनकोभेजाथा।

मईकेदूसरेसप्ताहमेंट्रेनसेआक्सीजनआनाशुरूहुई।इंडेनकेकंटेनरमेंट्रेनसेआनेवालीगैसस्टोरकीजातीथीऔरआसपासकेकईजिलोंतकयहींसेभेजीजातीथी।इसीदौरानदोदर्जनसेज्यादाउद्यमीशहरमेंआक्सीजनप्लांटलगानेकेलिएआगेआएथे,लेकिनअभीतककोईधरातलपरउतरतानहींनजरआरहाहै।फिलहालउद्योगविभागकेपाससिर्फचारआवेदनबचेहैं।

इनमेंसेभीएकउद्यमीनेअपनेपैरवापसखींचलिए,इसकेपीछेभीकारणहैं।यहबातभीआरहीहैकिहोसकताहैकितीसरीलहरनभीआए,इसेलेकरलोगोंनेअपनेहाथआक्सीजनप्लांटसेपीछेखींचलिएहैं।अबजबकेंद्रसरकारनेकहाहैकिआक्सीजनकीकमीसेकोईमौतनहींहुईतोलोगइसबयानकेखिलाफआवाजउठानेलगेहैं।नामसामनेलाएबिनाचिकित्सकोंकाकहनाहैकिबहुतसेलोगोंकीघरोंमेंइलाजकेदौरानआक्सीजननमिलनेसेमौतहुई,वहींबहुतलोगघरसेअस्पतालतकजानेकेदौरानआक्सीजनकीकमीसेजानगंवाबैठे।अस्पतालकेबाहरभीबेडकेइंतजारमेंबहुतसेलोगोंकीमृत्युहुई।

उद्यमियोंनेकहा

By Cooke