शारीरिक शिक्षा

अलीगढ़,एजेंसी।अलीगढ़मुस्लिमविश्वविद्यालयने15दिसंबरकोयहांपरिसरमेंहुईहिंसामेंगंभीररूपसेघायलहुएशोधछात्रमोहम्मदतारिककोअनुकंपाआधारपररसायनशास्त्रविभागमेंअस्थाईसहायकप्रोफेसरनियुक्तकरनेकानिर्णयलियाहै।तारिकपासकेफिरोजाबादशहरकेरहनेवालेहैंऔरदैनिकवेतनभोगीपरिवारसेआतेहैं।

जवाहरलालनेहरूमेडिकलकॉलेजकेट्रॉमासेंटरमेंतारिककीदेखभालकररहेउसकेदोस्तोंकेअनुसारतारिकपरभविष्यमेंपरिवारकेलिएआजीविकाअर्जितकरनेकीजिम्मेदारीहोगी।उनकेपिताबुजुर्गहैंतोमांअस्वस्थरहतीहैं।छहभाई-बहनोंकीजिम्मेदारीभीतारिकपरहै।तस्वीरखिंचवानेसेइनकारकरतेहुएताहिरनेकहा,'मैंनहींचाहताकिमेरीमांकोमेरीचोटोंकेबारेमेंपताचलेजोदिलकीमरीजहैं।'

उन्होंनेहिंसावालेदिनकोयादकरतेहुएकहाकिवहप्रदर्शनमेंशामिलनहींथेऔरसड़कपरभागतेहुएगिरगयेजिसकेबादक्याहुआ,पतानहीं।जेएनमेडिकलकॉलेजकेडॉक्टरोंकेअनुसारतारिककोएकविस्फोटकीवजहसेचोटआईं।जानकारीकेमुताबिकफोरेंसिकविशेषज्ञोंकीविस्तृतजांचमेंहीसचसामनेआसकेगा।

एएमयूकेप्रवक्ताप्रोफेसरशफीकिदवईनेकहाकितारिकइसपदकेलिएपात्रतारखतेहैंऔरकुलपतिकेपासअनुकंपाआधारपरउन्हेंनियुक्तकरनेकाविशेषाधिकारहै।किदवईनेबतायाकिसामान्यप्रक्रियाकेबादवहस्थाईनियुक्तिकेलिएपात्रहोंगे।