शारीरिक शिक्षा

अगरकोईव्यक्तिअपनाहरनिर्णयलेतेहुएबहुतज्य़ादाडरताहैऔरदूसरोंसेपूछेबिनाअपनीमर्जीसेकोईभीकदमउठानहींपातातोयहस्थितिचिंताजनकहोसकतीहै।ऐसीआदतेंभविष्यमेंडीपीडीयानीडिपेंडेडपर्सनैलिटीडिसॉर्डरकीवजहबनसकतीहैं।सीनियरकंसल्टेंटक्लिनिकलसाइकोलॉजिस्टडॉ.दीपालीबत्राबतारहीहैंइससमस्याकेबारेमेंविस्तारसे।

-आमतौरपरऐसेलोगदब्बूपनकीहदतकअतिशयविनम्रऔरआज्ञाकारीहोतेहैं।

-छोटी-छोटीबातोंसेइनकीभावनाएंआहतहोजातीहैं।

-संबंधखराबहोनेकेडरसेदूसरोंकीहरबातमानलेतेहैं।

-निर्णयलेनेमेंडरतेहैंऔरकोईभीबातदूसरोंसेबार-बारपूछतेहैं।

-अतिसंकोचीहोतेहैं।इसवजहसेकरीबीलोगोंकेसामनेभीअपनीअसहमतिज़ाहिरनहींकरपाते।

-ऐसेलोगअतिसंवेदनशीलहोतेहैंऔरअपनीआलोचनासुनकरजल्दीउदासहोजातेहैं।

-आत्मविश्वासकीकमीडीपीडीकाप्रमुखलक्षणहै।परयहज़रूरीनहींहैकिकमज़ोरमनोबलवालेहरव्यक्तिकोऐसीसमस्याहो।

-एंग्ज़ायटीडिसॉर्डरसेग्रस्तलोगअत्यधिकचिंताकीवजहसेदूसरोंपरनिर्भररहनेलगतेहैं,यहीआदतबादमेंडीपीडीकेलक्षणोंमेंपरिवर्तितहोसकतीहै।

-जिनबच्चोंकीपरवरिशअतिसंरक्षणभरेमाहौलमेंहोतीहै,उन्हेंभीयहसमस्याहोसकतीहै।

-आमतौरपर20-30आयुवर्गकेलोगोंंमेंइसकीआशंकासबसेअधिकहोतीहैक्योंकिइसउम्रमेंप्रेम,करियरऔरविवाहआदिसेजुड़ीकईउलझनेंव्यक्तिकेसामनेआतीहैं।

अगरकोईलक्षणनज़रआएतोचिंतितहोनेकेबजायव्यक्तिकोसबसेपहलेक्लिनिकलसाइकोलॉजिस्टसेसंपर्ककरनाचाहिए।वहांविशेषज्ञपर्सनैलिटी,प्रॉब्लमसॉल्विंगऔरस्ट्रेसहैंडलिंगटेस्टलेनेकेबादयहतयकरतेहैंकिवाकईउसव्यक्तिकोऐसीकोईसमस्याहैयानहीं?दिलचस्पबातयहकिइससमस्याकाट्रीटमेंट,हमेशाशॅार्टटर्महोताहैक्योंकिअगरलंबेसमयतकउपचारचलेगातोव्यक्तिकाउंसलरपरभावनात्मकरूपसेनिर्भरहोजाएगा।इससमस्याकोदूरकरनेकेलिएकॉग्नेटिवऔरअसर्टिवनेसबिहेवियरथेरेपीदीजातीहै,ताकिऐसेलोगदूसरोंकेसामनेबेझिझकअपनीबातरखसकें।अगरस्थितिज्य़ादागंभीरनहोतोआमतौरपरइससमस्यासेग्रस्तलोगोंकोदवाओंकीज़रूरतनहींपड़ती।काउंसलिंगऔरबिहेवियरथेरेपीकीमददसेलगभगतीनमहीनेकेभीतरहीव्यक्तिमेंसकारात्मकबदलावनज़रआनेलगताहै।

By Cooke