शारीरिक शिक्षा

कोरोनासंकटकेबीचदेशमेंहरस्तरपरकालाबाजारीकाफीज्यादाबढ़गईहै.हालातइतनेखराबहोगएहैंकिअबमरीजकोएकएंबुलेंसमिलनाभीमुश्किलसाबितहोरहाहै.हरतरफसेशिकायतेंआरहीहैंकिएंबुलेंसवालेजरूरतसेज्यादाचार्जकररहेहैं,लोगोंकोगुमराहकरनेकाप्रयासकररहेहैं.इनशिकायतोंकेबीचइंडियाटुडेकीतरफसेएकस्टिंगऑपरेशनकोअंजामदियागया.उसपड़तालसेसाफहोगयाकिमुश्किलसयममेंकुछलोगसिर्फमुनाफेकेलिएदूसरेकोलूटनेकाकामकररहेहैं.

मरीजोंकोचूनालगातेएबुंलेंसड्राइवर

दिल्लीऔरनोएडामेंकिएगएइसस्टिंगऑपरेशानमेंकईएंबुलेंसड्राइवरसेबातकीगईहै.उनसेजाननेकाप्रयासरहाकिवेएकमरीजकोअस्पताललेजानेकेकितनेपैसेलेंगे.हैरानीकीबातयेरहीकिकईएबुंलेंसड्राइवरने साफकहदियाकिवे50हजाररुपयेतकचार्जकरनेवालेहैं.किलोमीटरचाहेकमहीक्योंनाहों,लेकिनउनकीतरफसेदामपहलेसेतैयारहैं.स्टिंगऑपरेशनकायेहिस्सासमझिए-

रिपोर्टर:हमेगुरूग्रामकेमेदांताअस्पतालकेलिएएंबुलेंसचाहिए.

एबुंलेंसड्राइवर:आपकामरीजकहांहै.

रिपोर्टर:फॉर्माअपार्टमेंट,ICUएंबुलेंसकीजरूरतहै.

एबुंलेंसड्राइवर:50हजाररुपयेलगेंगेऔरबिलभीआपकोनहींमिलेगा.पेमेंटहमेंकीजाएगी.

ज्यादाचार्जकरनेपरक्यातर्कदिएजारहे?

अबदिल्ली-एनसीआरमेंलोगोंकोचूनालगानेकायेकामबड़ेस्तरपरचलरहाहै.जगहबदलरहीहैं,अस्पतालदूसरेहोतेहैं,लेकिनमरीजोंकीजेबमेंआगलगानेकाकामजोरोंपरजारीहै.वैसेड्राइवरद्वारारेटभीएबुंलेंसकेसाइजकोदेखचार्जकिएजारहेहैं.दिल्लीकेजीटीबीअस्पतालकेबाहरखड़ीएकछोटीएंबुलेंसनेसीधे25हजाररुपयेकीमांगरखी.वहींजबपूछागयाकिअगरबड़ीएबुंलेंसचाहिएतोउनकीतरफसेदामसीधे40हजारबतादिएगए.वैसेज्यादाचार्जकरनेकेजोतर्कदिएजारहेहैं,वोऔरज्यादाहैरानकरनेवालेहैं.पड़तालमेंकुछऐसेड्राइवर्सभीसामनेआएजोपूछरहेथे-एबुंलेंसमेंआपकोडॉक्टरचाहिएयाफिरनर्स.अबअगरडॉक्टरकेसाथएबुंलेंसचाहिएतोमरीजकेपरिजनको30हजाररुपयेदेनेपड़ेंगे,वहींअगरनर्सकेसाथभेजाजाताहैतो22हजाररुपयेकीमांगहै.

कोर्टनेदिखाईसख्ती,जमीनपरकोईअसरनहीं

एबुलेंसड्राइवरकीतरफसेयेडरदिखानेकीकोशिशहोरहीहैकिकहींभीएंबुलेंसनहींमिलनेजारहीहै,ऐसेमेंजोदामबताएगएहैंउतनेमेंहीकामकियाजाएगा.मजबूरमरीजकेपरिजनभीमुश्किलसमयमेंएंबुलेंसड्राइवरोंकीमनमानीकेआगेझुकनेकोमजबूरदिखाईदेरहेहैंऔरइसवजहसेइनड्राइवरोंकीहिम्मतभीकाफीज्यादाबढ़गईहै.देशकेकईदूसरेराज्योंसेभीयेखबरसामनेआईहैकिएंबुलेंसड्राइवरजरूरतसेज्यादाचार्जकररहेहैं.कईमौकोंपरकोर्टद्वाराभीसाफकहागयाहैकिएंबुलेंससेवाकेलिएदामतयहोजानेचाहिए.लेकिनइनफैसलोंकेबावजूदजमीनपरस्थितिनहींबदलीहैऔरलोगोंकोचूनालगानेकाकामधड़ल्लेसेजारीहै.

जानकारीकेलिएबतादेंकिपिछलेसालसितंबरमेंभीयेमुद्दाकाफीजोर-शोरसेउठायागयाथा.तबसुप्रीमकोर्टने11सितंबरकोदिएआदेशमेंसाफकहाथाकिहरराज्यएंबुलेंसकेदामतयकरेऔरवहींलगाताररेटकीसमीक्षाभीहोतीरहे.कोर्टकीतरफसेजोरदेकरकहागयाथाकिकिसीभीमरीजसेज्यादापैसेनहींलिएजाएं.लेकिनउसफैसलेकेबादभीजमीनपरकोईअसरनहींदिखाऔरअबकोरोनाकीदूसरीलहरकेदौरानलोगइसकाखामियाजाभुगतरहेहैं.