शारीरिक शिक्षा

-नजारादेखग्रामीणोंकीअटकीसांसें,समझनहींपारहेथेपहलेकिसेबचाऊं

-डेढ़घंटेबादभीपहुंचीपुलिसकेपहुंचनेपरतेजहोसकाघायलोंकाबचावकार्यजागरणसंवाददाता,जहानागंज(आजमगढ़):आधीरातमेंतेजधमाकाहुआतोनींदलेरहेग्रामीणघबराकरउठे।पहलेखुदकोसंभाला,एहसासकिएकिआवाजकिधरसेआईफिरदौड़पड़े।सुहवलचट्टीकेपासपहुंचेतोनजारादेखउनकेपैरोंतलेजमींखिसकगई।लक्जरीतीनगाड़ियोंकेपरखच्चेउड़ेनजरआए।कोईपलटगईथीतोकिसीकेकलपुर्जेदूर-दूरबिखरेपड़ेथे।गाड़ियोंमेंफंसेलोगमददकोचीख-पुकारकररहेथे।

ग्रामीणएकबारगीतोकांपउठे,लेकिनफिरहिम्मतजुटातेहुएमददमेंजुटगए।किसीनेएंबुलेंसतोकोईपुलिसकोफोनकरनेमेंजुटातोयुवाओंकीएकटीमखूनसेलतपथलोगोंकोगाड़ियोंसेनिकालनेमेंजुटगई।उससमयरातके11.45बजरहेथे।ग्रामीणघायलों,मृतकोंकटेअंगदेखकरकांपउठरहेथे।उनकीहिम्मतछूटजारहीथी,लेकिनउनकेअंदरलोगोंकीजानबचानेकाजज्बादुश्वारियोंकोकमजोरकरदेरहाथाछतउरनिवासीविजयचौहान,राजकुमारचौहान,हेमंतकुमारयादवनेसुहवलकेवीरूसिंह,अमितसिंह,शिवनाथरामकोबुलालिया।इंस्पेक्टरसंदीपयादवरातमेंकरीबडेढ़बजेपहुंचेतोबचावकार्यमेंतेजीआपाई।घायलोंकोपुलिसकीगाड़ीसेमंडलीयअस्पतालभेजागया।

By Cook