शारीरिक शिक्षा

संवादसूत्र,जाखल:

जिलेकेलिएजीवनदायिनीनदीघग्घरबेशकअबबरसातीनदीबनगईहै।लेकिनकिसानइसमेंपानीबहनेसेखुशहोजातेहै।पानीअधिकनआएतोकिसानोंकोफायदारहताहै,लेकिनकईबारअधिकपानीआनेसेआसपासतटबंधटूटजातेहैं।इससेकिसानोंकोभारीनुकसानहोताहै।अबपहाड़ीक्षेत्रोंमेंबारिशहुईहैतोघग्घरनदीमेंफिरसेजलस्तरबढ़नेलगगया।पिछलेदोदिनसेलगातारजलस्तरबढ़रहाहै।जिससेप्रशासनअलर्टहोगयाहै।बढ़तेजलस्तरकीरिपोर्टसमयसमयपरउच्चअधिकारियोंकोभेजीजारहीहै।पहाड़ीक्षेत्रोंवप्रदेशकेभिन्नजिलोंमेंहोरहीमानसूनकीबरसातसेघग्घरनदीकाजलस्तरअचानकबढ़नाशुरूहोगया।हालाकिअभीबाढ़जैसाकोईखतरायाआंशकानहींहैलेकिनप्रशासनअभीसेसतर्कहैताकिबाढ़यानदीकेओवरफ्लोजैसीस्थितिसेतुरंतनिपटाजासके।जुलाईमहीनेमेंमानसूनशुरूहोनेपरघग्घरकाजलस्तरबढ़गयाथा।वहीउससमयपहाड़ीक्षेत्रोंमेंबारिशरुकनेसेघग्घरकाजलस्तरभीकाफीहदतककमहोगयाथा।अबकरीबएकमहीनेबादफिरसेजलस्तरबढ़ाहै।

चांदपुरासाइफनकीक्षमता20हजारक्यूसेक:

घग्घरकेचांदपुरासाइफनकीक्षमता20हजारकेकरीबहैं।फिलहालजलस्तर2100क्यूसेककेकरीबहै।अधिकारियोंकाकहनाहैकिवहांकाजलस्तर14हजारक्यूसेकतकपहुंचताहैतोपानीकाबहावरंगोईनालेकीतरफहोजाताहै।5से7हजारक्यूसेकपानीरंगोईनालेकीतरफचलाजाताहै।इसकेबादअगरऔरबढ़ताहैतोयहांघग्घरकेकमजोरकिनारेटूटजातेहैं।

2010मेंघग्घरनदीपहलेभीआचुकीहैबाढ़:

घग्घरनदीनेपहलेकईबारबाढ़आचुकीहै।अंतिमबारबाढ़2010मेंआईथी।उसदौरानबहुतअधिकनुकसानहुआथा।तबाहीलोगोंकोअबभीयादहै।पिछलेसमयमेघग्गरनदीजोतबाहीमचाईहैउसेयादकरलोगआजभीकांपउठतेहै।

घग्घरकेपानीपरप्रशासनकीपूरीनिगाहहै।चांदपुरासाइफनपर2100क्यूसेकपानीबहरहाहैं।समय-समयपरइसकीरिपोर्टउच्चअधिकारियोंकोभीभेजीजारहीहैं।प्रशासनपूरीतरहसेअलर्टहै।अभीबाढ़जैसीकोईस्थितिनहीहै।पानीखतरेकेनिशानसेकाफीनीचेहै।

-संदीपकुमार,एसडीओ,सिचाईविभागटोहाना

By Cooke