शारीरिक शिक्षा

जागरणसंवाददाता,बांदा:कुआं,तालाबजियाओअभियानपुण्यकमानेकाअभियानहै।पुरानेकुओंवतालाबोंकीसफाईकरकेववर्षाकेजलकोसंरक्षितकरकेहीजलसंकटकोदूरकियाजासकताहै।यहविचारजिलाधिकारीनेबड़ोखरब्लाककेग्रामबड़ोखरमेंप्रेमसिंहकीबगियामेंआयोजितसंगोष्ठीमेंव्यक्तकिए।

जिलाधिकारीहीरालालनेकहाकिकृषिविभागकेसहयोगसे2500तालाबखुदवाएजाएंगे।इसकेअलावामनरेगातथाग्रामसभानिधिसेनएतालाबबनवानेतथाकुओंकीमरम्मतकाकार्यकरायाजाएगा।बड़ेकिसानइसअभियानमेंसहयोगकरतालाबखुदवाकरजलसंरक्षणमेंसहयोगकरसकतेहैं।कुओंकीपूजा-अर्चनाइसउद्देश्यसेकराईजारहीहैकिलोगोंकेमनमेंकुआंवतालाबोंकेप्रतिआदरभावपैदाहो।यदिआदरभावहोगातोसभीलोगकुआंवतालाबोंकेसंरक्षणपरध्यानदेंगे।कुओंकापानीसिचाईवपेयजलकेलिएउपयोगमेंआतारहाहै।इससेइनकीमहत्ताकोसभीकोसमझनाचाहिए।प्रगतिशीलकिसानप्रेमसिंहनेकहाकिवहकिसानोंकोचाहिएअपनीभूमिकेकुछहिस्सेपरएकछोटातालाबअवश्यबनवाए।इससेजलस्तरबढ़ेगा।जलस्तरपरनीचेनहींजाएगा।तालाबखोदाईमेंजिलाप्रशासनसहयोगकररहाहै।किसानोंकोइसकालाभलेनाचाहिए।इसदौरानसामाजिककार्यकर्ताउमाशंकरपांडेय,श्यामजीनिगम,सचिनचतुर्वेदी,कुबेरसिंह,बलवानसिंह,सुनीलमसुराहा,रमेशपालआदिनेविचारव्यक्तकिए।जिलाअर्थएवंसंख्याधिकारीसंजीवसिंहबघेल,भूमिसरंक्षणअधिकारीसौरभकुमारआदिमौजूदरहे।

By Cook