शारीरिक शिक्षा

विनोदभारती,अलीगढ़।लोकसभाचुनावमेंजीतकेलिएनेताओंकीओरसेखूबएक-दूसरेपरजुबानीहमलेकिएजारहेहैं।एकतरफजहांसत्ताबचानेकीकोशिशेंहोरहीहैं,वहींदूसरीतरफसत्तामेंआनेवजीतकेलिएलालायितहैं।इसजुबानीजंगमेंकईबारनेताओंकीजुबानभीफिसलरहीहै।घेराबंदीहोनेपरकईबारजहांनेताविवादितबयानसेपलटीखाजातेहैं,वहींकईकेसुरऔरबिगड़जातेहैं।विशेषज्ञोंकेअनुसारनेताओंकीजुबानफिसलतीनहीं,बल्किवेजनताकामिजाजभांपकरजानबूझकरविवादितभाषणयाबयानदेतेहैं।

लुभानेकोभाषणहीसबसेअहम

जेएनमेडिकलकॉलेजमेंसाइक्लोजिस्टडिपार्टमेंटकेप्रोफेसरडॉ.मोहम्मदअसलमकाकहनाहैकिराजनीतिमेंमतदाताओंकोलुभानेकेलिएभाषणहीसबसेअहमहैं।नेताअपनेद्वाराकिएछोटेसेकामकोबहुतबढ़ादिखानेमेंमाहिरहोतेहैं।दूसरीओरभविष्यकीतस्वीरदिखातेहुएखुदकोबेहतरबतातेहैं।नेताओंकीजुबानकभीनहींफिसलती,बल्किवेलोगप्रतिद्वंद्वीसेबदलालेनेकेलिएविवादितभाषणदेतेहैं।जनताकोऐसेबोलगंभीरतासेलेनेचाहिए।

भाषणमेंझलकतानेताकासंस्कार

मानसिकरोगविशेषज्ञडॉ.अंतरागुप्ताकाकहनाहैकिऐसानहींहैकिशारीरिक-मानसिकथकानयातनावसेनेताओंकीजुबानफिसलजातीहै।नेताओंकोभाषणकाकाफीअभ्यासहोताहै।दरअसल,सभामेंतालीबजतेहीनेताजनताकामिजाजभांपलेतेहैं।यदिकोईनेतासार्वजनिकमंचसेगाली-गलौजयाअन्यअमर्यादितबयानदेताहैतोनिश्चिततौरपरवहसामान्यजीवनमेंइसीभाषायाइससेभीबुरीभाषाकाइस्तेमालकरताहोगा।भाषाशैलीसेसंस्कारझलकतेहैं।हैरतकीबातयेहैकितालियांबटोरनेकेचक्करमेंयेलोगमहिलाओंपरभीअमर्यादितटिप्पणीकरदेतेहैं।सबकुछजानबूझकरहीबोलाजाताहै।मतदाताओंकोचाहिएकिवेऐसेलोगोंकाबहिष्कारकरेंऔरअच्छेप्रतिनिधिचुने।

जुबानफिसलनेपरकोईसजानहीं

नेताओंकीजुबानफिसलनेकीएकवजहयेभीहैकिकानूनमेंज्यादातरविवादितबयानोंपरसजाकाप्रावधाननहींहै।अलीगढ़बारएसोसिएशनकेपूर्वअध्यक्षववरिष्ठअधिवक्ताजगदीशसारस्वतकहतेहैंकिनेताओंकीजुबानइसीलिएबार-बारफिसलतीहैकिउनकेखिलाफकोईकार्रवाईनहींहोपाती।उन्हेंयहबातखुदपताहोतीहै।विवादबढऩेपरवेतुरंतहीपलटजातेहैंमाफीमांगलेतेहैं।अबजुबानफिसलनेकीक्यासजादीजिए।हालांकि,महिलाओंपरअशोभनीयटिप्पणीयाकिसीव्यक्तियासमुदायकोजानसेमारनेकीधमकीदिएजानेपरआइपीसीकीधाराकेतहतमुकदमादर्जकरायाजासकताहै।

By Cooke