शारीरिक शिक्षा

नयीदिल्ली,26अगस्त(भाषा)मेडिकलप्रवेशपरीक्षानीटऔरइंजीनियरिंगप्रवेशपरीक्षाजेईईमेन्सकेलिये14लाखसेअधिकउम्मीदवारोंनेप्रवेशपत्रडाउनलोडकिएहैंजिसकीपरीक्षासितंबरमेंनिर्धारितहै।राष्ट्रीयपरीक्षाएजेंसीकेअधिकारियोंनेयहजानकारीदी।राष्ट्रीयपरीक्षाएजेंसी(एनटीए)नेबुधवारकोदोपहर12बजेराष्ट्रीयपात्रतासहप्रवेशपरीक्षा(नीट)केलियेप्रवेशपत्रजारीकिए।कोविड-19केमद्देनजरनीटऔरजेईईमेन्सपरीक्षाकोस्थगितकरनेकीविभिन्नवर्गोद्वारामांगकीजारहीहै।एनटीएकेअधिकारियोंनेकहा,‘‘नीटपरीक्षाकेलियेप्रवेशपत्र12बजेसेडाउनलोडकरनेकेलियेउपलब्धहै।पहलेतीनघंटेमें4लाखसेअधिकउम्मीदवारोंनेप्रवेशपत्रडाउनलोडकिए।शामतकयहसंख्याबढ़कर6.84लाखहोगई।’’उन्होंनेकहाकिहमनेयहसुनिश्चितकियाहैकि99प्रतिशतउम्मीदवारोंकोउनकीप्रथमपसंदकेपरीक्षाकेंद्रवालेशहरआवंटितकियेजाएं।इंजीनियरिंगकेलियेसंयुक्तप्रवेशपरीक्षा(मुख्य)याजेईईएकसेछहसितंबरकेबीचहोगीजबकिराष्ट्रीयपात्रतासहप्रवेशपरीक्षा(नीट-स्नातक)13सितंबरकोकरानेकीयोजनाहै।नीटकेलिए15.97लाखविद्यार्थियोंनेपंजीकरणकरायाहै।अधिकारियोंनेबतायाकिजेईईमेन्सकेलिये8.58लाखमेंसे7.41लाखउम्मीदवारोंनेप्रवेशपत्रडाउनलोडकरलियाहै।332उम्मीदवारोंनेपरीक्षाकेंद्रबदलनेकाआग्रहकियाऔरउसपरसकारात्मकढंगसेविचारकियाजारहाहै।कोविड-19महामारीकेकारणइनप्रवेशपरीक्षाओंकोस्थगितकरनेकीमांगबढ़रहीहै।हालांकिशिक्षामंत्रालयनेजोरदियाहैकिपरीक्षाएंनिर्धारितसमयपरहीसितंबरमेंहोंगी।राष्ट्रीयपरीक्षाएजेंसी(एनटीए)सितंबरमेंहोनेजारहीमेडिकलऔरइंजीनियरिंगप्रवेशपरीक्षाओं(नीटऔरजेईई)केलिएपरीक्षाकेंद्रोंकीसंख्याबढ़ाने,एकसीटछोड़करबैठाने,प्रत्येककमरेमेंकमउम्मीदवारोंकोबैठानेऔरप्रवेश-निकासकीअलगव्यवस्थाजैसेकदमउठाएगी।एनटीएनेमंगलवारकोअपनेबयानमेंकहाथा,‘‘जेईईकेलिएपरीक्षाकेंद्रोंकीसंख्या570सेबढ़ाकर660कीगईहैजबकिनीटअब2,546केंद्रोंकेबजाय3,843केंद्रोंपरहोगी।जेईईकंप्यूटरआधारितपरीक्षाहैजबकिनीटपारंपरिकतरीकेसेकलमऔरकागजपरहोतीहै।’’बयानमेंकहागया,‘‘इसकेअलावाजेईई-मुख्यपरीक्षाकेलिएपालियोंकीसंख्याआठसेबढ़ाकर12करदीगईहैऔरप्रत्येकपालीमेंविद्यार्थियोंकीसंख्याअब1.32लाखसेघटकर85,000होगईहै।’’इसमेंकहागयाकि,‘‘सामाजिकदूरीकाअनुपालनसुनिश्चितकरनेकेलिएजेईई-मुख्यपरीक्षामेंछात्रोंकोपरीक्षाकक्षमेंएकसीटछोड़करबैठायाजाएगाजबकिनीटमेंएककमरेमेंविद्यार्थियोंकीसंख्या24सेघटाकर12करदीगईहै।’’वहीं,परीक्षाकक्षकेबाहरसामाजिकदूरीकाअनुपालनसुनश्चितकरनेकेलिएउम्मीदवारोंकाविशेषप्रवेशएवंनिकासहोगा।उम्मीदवारोंकोभीउपयुक्तसामाजिकदूरीबनायेरखनेसहितअन्यपरामर्शजारीकियेगएहै।गौरतलबहैकिपरीक्षार्थियोंऔरउनकेमाता-पितानेकोरोनावायरसकेबढ़तेमामलोंकीवजहसेपरीक्षास्थगितकरनेकीमांगकीहै।मंगलवारकोस्वीडनकीजलवायुपरिवर्तनपरबालकार्यकर्ताग्रेटाथनबर्गनेइसमुद्देपरकहाथाकियहउचितनहींहैकिभारतकेछात्रोंकोकोविड-19महामारीकेदौरानराष्ट्रीयपरीक्षादेनापड़रहीहैऔरजबलाखोंलोगबाढ़सेभीप्रभावितहै।उन्होंनेकहा,‘‘मैंकोविडकेदौरानजेईई_नीटपरीक्षाटालनेकेआह्वानकासमर्थनकरतीहूं।’’वहींकांग्रेसनेतासोनियागांधी,राहुलगांधी,पश्चिमबंगालकीमुख्यमंत्रीममताबनर्जी,ओडिशाकेमुख्यमंत्रीनवीनपटनायक,द्रमुकप्रमुखएमकेस्टालिनऔरदिल्लीकेउपमुख्यमंत्रीमनीषसिसोदियासहितकईविपक्षीनेताओंनेभीपरीक्षास्थगितकरनेकीमांगकीहै।हालांकि,कोविड-19कीवजहसेपरीक्षास्थगितकरनेकानिर्देशदेनेकेलिएदायरयाचिकाकोपिछलेहफ्तेउच्चतमन्यायालयनेखारिजकरदियाथा।

By Cook