शारीरिक शिक्षा

रांची,राज्यब्यूरो।झारखंडमेंपिछलेदो-तीनोंदिनोंसेकोरोनावायरसकेबढ़रहेसंक्रमणनेपुलिसकीचिंताबढ़ादीहै।पुलिसकेसमक्षबाजारवभीड़भाड़वालेइलाकेमेंशारीरिकदूरीकापालनकरानेकेसाथ-साथखुदकोभीसंक्रमणसेबचानेकीचुनौतीहै।यहीवजहहैकिउन्हेंविशेषसतर्कताकेसाथड्यूटीकापालनकरनेकोकहागयाहै।अवकाशसेलौटनेवालेपुलिसकर्मियोंकेलिएस्वास्थ्यविभागसेपूर्वमेंजारीदिशानिर्देशोंकापालनकरनाअनिवार्यकियागयाहै।

इसकेतहतअवकाशसेलौटनेवालेपुलिसकर्मियोंकोएकसप्ताहतकआइसोलेशनमेंरहनाहोगा।साथहीआरटीपीसीआरजांचभीकरानीहोगी।जांचरिपोर्टनिगेटिवआनेकेबादहीउन्हेंबैरकमेंदाखिलामिलेगाऔरउनकीड्यूटीशुरूहोगी।पुलिसमुख्यालयकेइसआदेशकासख्तीसेपालनकियाजारहाहै।इधर,डीजीपीनेकोरोनाकालमेंबेहतरकरनेवालेपुलिसकर्मियोंवपदाधिकारियोंकीपीठभीथपथपाईहै।

बतातेचलेंकिराज्यमेंकुल7,765पुलिसपदाधिकारीवपुलिसकर्मीसंक्रमितहुएथे।इनमेंसे43कीजानचलीगई।इधर,झारखंडपुलिसकोरोनावायरसकेसंक्रमणकोफैलनेसेरोकनेकेलिएसड़कपरचलनेवालोंकीसिर्फमास्ककीजांचकररहीहै।उधर,भीड़भाड़वालेइलाके,बाजारआदिमेंशारीरिकदूरीकाअनुपालननहींकेबराबरहोपारहाहै,जोतीसरीलहरकोआमंत्रितकररहाहै।

झारखंडमें24प्रतिशतलोगोंकोलगापहलीडोजकाटीका

राज्यमेंकोरोनाटीकाकरणकीरफ्तारबढ़ानेकीजरूरतहै।राज्यमेंवैक्सीनकीउपलब्धताकेआधारपरप्रत्येकदिन80हजारसेसवालाखकेबीचप्रतिदिनटीकाकरणहोरहाहै।इसकेबावजूदझारखंडअन्यराज्योंसेटीकाकरणमेंपिछड़रहाहै।अबतककेटीकाकरणकीबातकरेंतोराज्यमेंकुलआबादीमेंसेलगभग24प्रतिशतकोहीपहलीडोजकाटीकालगसकाहै।इसमामलेमेंबड़ेराज्योंमेंबिहारऔरउत्तरप्रदेशहीझारखंडसेपीछेहै।

दोनोंडोजकेटीकाकरणमेंभीयहीहालहै।राज्यकीकुलआबादीमें5.8प्रतिशतकोहीदोनोंडोजकाटीकालगसकाहै।विभिन्नआयुवर्गकीबातकरेंतो60वर्षसेअधिकआयुकेलगभग50प्रतिशतबुजुर्गोंकोहीपहलीडोजकाटीकालगाहै।आधेबुजुर्गोंकोअभीभीपहलीडोजकाभीटीकानहींलगाहै।18से44वर्षआयुके29प्रतिशतयुवाओंतथा45से59वर्षआयुवर्गके43प्रतिशतकोहीपहलीडोजकाटीकालगसकाहै।इसतरह,अभीभीबड़ीआबादीपहलीडोजकेटीकासेहीवंचितहैं।

कईराज्योंमेंटीकाकरणकीरफ्तारतेज

देशमेंकईराज्यऐसेहैं,जहांआधीसेअधिकआबादीकोपहलीडोजकाटीकालगचुकाहै।इनमेंगोवा(72.6प्रतिशत),हिमाचलप्रदेश(68.8प्रतिशत),त्रिपुरा(61.8),मिजोरम(55.5प्रतिशत),केरल(50.9प्रतिशत),उत्तराखंड(50.1प्रतिशत)शामिलहैं।

By Daniels