शारीरिक शिक्षा

रांची,राब्यू।झारखंडराज्यस्तरीयबैंकर्ससमितिकी77वींत्रैमासिकरिपोर्टकेआंकड़ेमानकोंपरखरेनहींउतरेहैं।सीडीरेशियोंमेंगिरावटकादौरजारीहैवहीं,एनपीएभीलगातारबढ़ताजारहाहै।सोमवारकोरांचीमेंहुईराज्यस्तरीयबैंकर्ससमितिकीबैठकमेंइनआंकड़ोंपरचिंताजताईगई।पिछलीतिमाहीमेंबैंकोंकासीडीरेशियो39.67प्रतिशतपरपहुंचगया।वहीं,एनपीए9.21प्रतिशतरहा।राज्यस्तरीयबैंकर्ससमिति,झारखंडकेमहाप्रबंधकबीकेमिश्रानेकहाकिबैंकोंकासीडीरेशियोकाघटनाचिंताजनकहै।

इसपरसभीबैंकोंकोमिलकरकामकरनेकीआवश्यकताहै।केसीसीकेआवेदनभीबैंकोंमेंलंबितपड़ेहैं।बैंकोंसेआग्रहहैकिसभीआवेदनोंपरध्यानदे।नाबार्डकेसीजीएमजीकेनायरनेकहाकिसीडीरेशियोकागिरनाचिंताजनकहै।यहराष्ट्रीयबेंचमार्कसेकमहै।सभीबैंकर्ससीडीरेशियोकोबढ़ानेमेंयोगदानदे।भारतीयरिजर्वबैंक,झारखंडकेमहाप्रबंधकसंजीवसिन्हानेकहाकिकेंद्रऔरराज्यसरकारकीयोजनाओंकीनियमितरूपसेमाॅनिटरिंगकरें।एमएसएमई,स्टार्टअपजैसेसेक्टरोंमेंबैंकोंकाफोकसहोनाचाहिए।बैंकऑफइंडियाकेकार्यपालकनिदेशकस्वरूपदासगुप्तानेकहाकिराज्यकेसभीबैंककृषिलोनकोप्राथमिकतादे।इससेबैंकोंकेसीडीरेशियोमेंसुधारआएगा।

कृषिक्षेत्रमेंटर्मलोनदे।इसकाफायदाकिसानोंऔरबैंकदोनोंकोहोगा।साथहीएमएसएमईसेक्टरपरभीफोकसकरें,क्योंकिएमएसएमईसेक्टरदेशमेंसबसेअधिकरोजगारदेताहै।बैंकऑफइंडियाकेएमडीसहसीइओअतनूकुमारदासनेसभीबैंकोंकोएक्शनप्लानबनाकरकामकरनेकीनसीहतदी।कहा,इससेबैंकिंगसेक्टरमेंसुधारआएगा।बैठकमेंएसएलबीसीकेडीजीएमगणेशटोप्पो,आरबीआइझारखंडकेएजीएमरिचर्डलकडा,एसबीआइकेजीएमजेमोहंती,यूबीआइकेफील्डजीएमविनोदकुमारपटनायक,समेतविभिन्नबैंकोंकेजीएम,डीजीएम,एजीएम,एलडीएममौजूदथे।बैठककासंचालनएसएलबीसीकेविभवकुमारऔरप्रियंकाध्यानीनेसंयुक्तरूपसेकिया।

बैंकोंऔरसरकारकेकेसीसीकेआंकड़ोंमेंअंतर

कृषिसचिवअबुबकरसिद्दकीनेकहाकिराज्यकेकिसानोंकोकेसीसीकालाभदेनाहै।इसकेलिएकेंद्रऔरराज्यसरकारगंभीरहै।इसकेअलावाडेयरीऔरफिशरीकेलिएऋणउपलब्धकरानाहै।बैंकइसेप्राथमिकताकेआधारपरअधिकसेअधिकऋणदे।कईबैंकोंमेंकेसीसी,डेयरीऔरफिशरीऋणकेलिएआवेदनलंबितहै।बैंककेअधिकारियोंसेआग्रहहैकिवेलंबितपड़ेआवेदनोंकानिष्पादनजल्दसेजल्दकरें।उन्होंनेकहाकिकेसीसीकेमामलेमेंसरकारऔरबैंकोंकेआकडोंमेंअंतरहै।इसकारणकिसानोंकोकेसीसीकालाभनहींमिलपारहाहै।साथहीजोआवेदनबैंकमेंआरहेहैं,उसकीमाॅनिटरिंगभीहो।बैंकोंकोलक्ष्यदियागयाहै,उसेवेपूराकरनेकीकोशिशकरें।

आवेदनोंकोलंबितनरखेबैंक

अजयकुमारसिंहवित्तविभागकेप्रधानसचिवअजयकुमारसिंहनेकहाकिझारखंडसरकारराज्यकेविकासकोगतिदेनेकेलिएकईयोजनाएंचलारहीहै।इनयोजनाओंकेसफलक्रियान्वयनमेंबैंकोंकासहयोगचाहिए।केंद्रऔरराज्यसरकारकीयोजनाओंकोप्राथमिकतादे।योजनाओंकेतहतआएआवेदनोंकोलंबितनरखें।कहा,केंद्रसरकारकीकईयोजनाएंकीराशिडीबीटीकेमाध्यमसेदीजारहीहै।

वहीं,राज्यसरकारकी47योजनाओंकोभीडीबीटीकेमाध्यमसेदेनेकीयोजनाहै।इसपरकामचलरहाहै।इसमेंबैंकोंकीजिम्मेदारीबढ़जाएगी।राज्यमें60वर्षसेअधिकलोगोंकोपेंशनदेनेकीयोजनाबनायीगईहै।इसमेंबैंकोंकीभागीदारीअधिकहोगी।प्रधानसचिवनेकहाकिराज्यसरकारनेकृषिक्षेत्रमेंकईनिर्णयलिए,कईऐसीयोजनाएंहै,जिसमेंबैंकोंकीसहभागिताजरूरीहै।उन्होंनेकहाकिबैंकोंकासीडीरेशियोगिरनानिराशाजनकहै।इसमेंसुधारकरनेकेलिएसभीबैंकर्समिलकरकामकरें।

By Daniels