शारीरिक शिक्षा

विमलपांडेय,उरई:देशकेप्रमुखमहोत्सवकीशानबढ़ानेवालीजालौनकीप्रसिद्धआतिशबाजीएवंबारूदकापरंपरागतशिल्पअबढलानपरहै,लेकिनकभीयहपूरेदेशमेंअग्निखिलौनाकेनामसेजानाजाताथा।बुंदेलखंडमेंमरहठोंकेकालमेंआतिशबाजीकाव्यवसायखूबफलाफूला।प्रथमस्वतंत्रतासंग्राममेंमरहठोंनेकालपीमेंभूमिगतआयुधकारखानेबनारखेथे।कालांतरयहांकीआतिशबाजीसेपूरेदेशकेतीजत्योहारोंऔरउत्सवोंकीपरंपराओंकानिर्वहनहोताथा।दीवालीमेंआतिशबाजीबनानेकामुख्यकेंद्रकालपी,जालौनऔरकोंचकस्बाथा।तीजत्योहारोंमेंजालौनजिलेकीआतिशबाजीपूरेदेशमेंधूममचातीरहीहै।जालौनकीआतिशबाजीकैसेबनीअग्निखिलौना:

जिलेकेप्रख्यातसाहित्यकारअयोध्याप्रसादकुमुदकहतेहैंकिजालौनजिलेकीआतिशबाजीपूरेदेशभरमेंचर्चितरहीहै।इसेअग्निखिलौनाकहनेकेपीछेकहानीकुछऔरहीहै।दरअसलखिलौनाकोफारसीकोकसकहतेहैंजबकिइसेबनानेवालेकोकसगरकहतेहैं।इनकसगरोंनेजालौनकीआतिशबाजीकोराष्ट्रीयस्तरकीपहचानदिलाई।कालांतरकसगरोंकेइसेउत्पादकोअग्निखिलौनाकहाजानेलगा।

कर्नाटकऔरमहाराष्ट्रतकरहीधूम:

जालौनकेमिट्ठूलालआतिशबाजीमेंपूरेदेशमेंअपनीपहचानरखतेथे।उनकेबादबेटेअकरमनेकमानसंभालीहै।बकौलअकरमदेशऔरप्रदेशमेंजालौनकीआतिशबाजीजानीजातीथी।बंगाल,असममेंदुर्गापूजाहोयामहाराष्ट्रकागणेशउत्सव,कर्नाटककादशहरा,हरप्रांतमेंजालौनकीआतिशबाजीहीजातीथी।कालपीकेआतिशबाजमन्नानकहतेहैंकिअबजिलेमेंआतिशबाजीकानिर्माणदसफीसदभीनहींहोताहै।अबबाहरसेमालआताहै।

जालौनकीआतिशबाजीकाइतिहास:

बुंदेलखंडमेंमरहठोंकेप्रमुखशासनकालमेंजालौनकाबारूदनिर्माणकलाआगेबढ़ी।मरहठाशासनकालमेंहीइसकारोबारनेपूरेदेशमेंजमकरधूममचाईथी।प्रथमस्वतंत्रताआंदोलनमेंजबरानीलक्ष्मीबाईनेकालपीकोप्रमुखयुद्धक्षेत्रबनायाथातबयहांएकबड़ाभूमिगतआयुधकारखानातैयारकियागयाथा।इसकारखानेकीक्षमता500बैरलकीरहीहै।कालांतरयहीकारीगरपीढ़ीदरपीढ़ीइसकारोबारसेजुड़करआगेबढ़नेलगेथे।

By Cooper