शारीरिक

जागरणसंवाददाता,बक्सर:अक्षयकाशाब्दिकअर्थहै-जिसकाकभीनाशयानीक्षयनहो।आचार्योंकेमुताबिकअक्षयतृतीयाकोस्नान-दान,जप-तप,हवनादिकर्मोंकाशुभऔरअनन्तफलमिलताहै।इससालअक्षयतृतीयाआजरविवारकोहै।आचार्य(प्रो.)मुक्तेश्वरनाथशास्त्रीनेबतायाकिरविवारकोअक्षयतृतीयादिनके11बजकर14मिनटतकभोगकररहीहै।विद्वानोंकामतहैकीअक्षयतृतीयामेंदानकाकार्यउदयातिथिमेंकरनाहीसर्वश्रेष्ठऔरलाभकारीहोगा।इसीदिनकृषिकार्यशुरूकरनेकामुहूर्तफलदायीहोगा।मान्यताकेअनुसारजिलेकेकिसानअक्षयतृतीयापरभूमिपूजनकरेंगे।पुरैनियाकेकिसानवीरेंद्रतिवारी,बराढ़ीकेरामकुमारपांडेय,कोंच-बकसड़ाकेबांकेबिहारीमिश्र,नावानगरकेरविन्द्रदुबे,बिहपुरकेविजयशंकरपांडेयआदिनेबतायाकिआगामीफसलकेलिएरीति-रिवाजकेअनुरूपखेतमेंइसदिनवेअक्षत,गुड़,दही,अयपन,आमवपरासकापत्ता,धानआदिसेभूमिपूजनकरेंगे।इसकेउपरांतघरवापसआनेपरप्रसादकेरूपमेंमीठाकापारणकरेंगे।वहीं,रातकीरसोईमेंभीमीठापकवानखानेकीपरंपराहै।दूसरीओर,आचार्यनेबतायाकिइसबारअगलीफसलकेलिएउत्तमउत्पादनकायोगहै।

आभूषणऔरकृषियंत्रकारोबारकोलगेगातगड़ाझटकाअक्षयतृतीयासेविवाह,गृहप्रवेशऔरसभीतरहकेमांगलिककार्यप्रारंभहोजातेहैं।वहीं,इसदिनसोना-चांदीखरीदनाऔरकृषियंत्रएवंजमीन-जायदादकासौदाकरनाभीशुभमानाजाताहै।अक्षयतृतीयपरबक्सरमेंलगभगपांचकरोड़रुपयेकेसोने-चांदीकाकारोबारहोताहै।हालांकि,लॉकडाउनकेकारणआभूषणदुकानबंदहैंऔरकृषियंत्रोंकेदुकानेंभीनहींखुलरहेहैं।झूनबाबूज्वेलर्सकेअशोककुमारनेबतायाकिसोशनडिस्टेसिगकीशर्तकेसाथअगरप्रशासनअक्षयतृतीयपरकुछसमयकेलिएआभूषणदुकानोंकोखोलनेकीअनुमतिदेतोयहआभूषणकारोबारसेजुड़ेजिलेकेहजारोंपरिवारोंकेलिएराहतकीबातहोगी।

By Cooper