शारीरिक शिक्षा

बाराबंकी:धानकीक्षतिग्रस्तफसलोंनेइसबारकिसानोंकीदीवालीफीकीकरदीहै।मानसूनकेअंतिमदिनोंमेंहुईआफतकीबारिशनेकाफीकिसानोंकीफसलेंबर्बादकरदीहैं।आमलोगजहांदीवालीकीतैयारीमेंजुटेहैं,वहींकिसानपानीमेंडूबीअपनीबचीफसलोंकोसहेजकरघरपहुंचानेकेजतनमेंलगेहैं।खेतोंकेतैयारनहोनेसेआलूकीखेतीऔररबीकीफसलोंकीबोआईपरभीग्रहणलगगयाहै।धानकीखेतीकेशुरुआतीदौरमेंकिसानमौसमकेसाथदिएजानेंसेकाफीखुशथे।खेतोंमेंतैयारहोतीफसलकोदेखकरकिसानकाफीखुशथे,लेकिनमानसूनकेअंतिमदिनोंमेंतेजहवाओंकेसाथहुईबारिशनेअन्नदाताओंकीखुशियांहीछीनली।तेजहवाओंसेकाफीफसलखेतोंमेंहीउलटकरपानीमेंडूबगई।काटीगईफसलभीपानीसेबर्बादहोगई।काफीकिसानोंकेखेतोंमेंगिरीफसलोंमेंअंकुरणसेफसलखराबहोगई,जिससेकिसानबेहालहैं।

दीवालीकात्योहारसिरपरहै,लेकिनकिसानत्योहारीतैयारियोंसेदूरअपनीफसलोंकोसहेजनेमेंजुटेहैं।

मुन्नुपुरवानिवासीराकेशवर्मावकरुणेशवर्माबतातेहैंकित्योहारखुशियोंसेजुड़ेहोतेहैं,लेकिनफसलकीबर्बादीसेकिसानोंकीआत्मादुखीहै।त्योहारकीखुशियांइसबारफीकीहैं।भेड़हापुरनिवासीगिरीशकहतेहैंकिफसलतैयारनहोनेसेहाथपूरीतरहखालीहैं।पानीमेंडूबीधानकीफसलसेलागतभरकाअनाजहीनिकलआयेयहीबहुतहै।क्षतिग्रस्तफसलोंकासर्वेनहोनेसेकिसानोंकीमुआवजेकीउम्मीदभीटूटरहीहै।

By Dale