शारीरिक शिक्षा

जागरणसंवाददाता,रुड़की:श्रीसनातनधर्मप्रकाशचंदकन्यास्नातकोत्तरमहाविद्यालयकेचित्रकलाविभागकीओरसेमिक्समीडियापेंटिगटेक्निक्सविषयपरऑनलाइनकार्यशालाआयोजितहुई।कार्यशालाविद्यार्थियोंकेकौशलविकासकेलिएआयोजितकीगई।

शुक्रवारकोप्राचार्यडॉ.अर्चनामिश्रानेदोदिवसीयकार्यशालाकीशुरुआतकी।उन्होंनेचित्रकलाविभागकीओरसेऐसेरचनात्मकआयोजनकोलेकरसराहनाकी।कहाकिइससेविद्यार्थियोंकोनिश्चितरूपसेलाभमिलेगा।कार्यशालाकेपहलेदिनउत्तरप्रदेशबरेलीकेकन्यामहाविद्यालयआर्यसमाजभूडकीचित्रकलाविभागकीएसोसिएटप्रोफेसरडॉ.अनुराधाआर्यनेलाइवडेमोस्ट्रेशनदिया।इसमेंउन्होंनेपेंटिगकीविभिन्नविधाओंकीजानकारीदेतेहुएकोलाजपेंटिगऔरमिक्समीडियापेंटिगकीबारीकियांप्रतिभागियोंकोसमझाई।उन्होंनेपेंटिगमेंप्रयोगहोनेवालेविभिन्नसामग्रियोंजैसे-पेंसिल,पेन,वाटरकलर,पोस्टरकलर,ऑयलकलर,एक्रेलिककलर,फेविकॉलकेअलावाकागज,कपड़ा,धागे,सुतलीवअन्यउपलब्धसामग्रीसेदोपेंटिगबनाकरदिखाई।डॉ.आर्यनेकहाकिकलामेंमौलिकताकाहोनाबहुतजरूरीहै।अपनीकल्पनाएवंरचनात्मकताकाविकासकरकेहीकलाजगतमेंपहचानबनाईजासकतीहै।उन्होंनेकलाविद्यार्थियोंकोनिरंतरकार्यकरनेवसीखनेकीसलाहदी।बतायाकिकलाकेक्षेत्रमेंनवीनप्रयोगोंकीआवश्यकताहै।इसलिएहमेंनिरंतरप्रयोगकरतेहुएअपनीकलासाधनाजारीरखनाचाहिए।महाविद्यालयकीचित्रकलाविभागकीअध्यक्षडॉ.अलकाआर्यनेबतायाकिकार्यशालामेंउत्तराखंडऔरउत्तरप्रदेशकेविभिन्नमहाविद्यालयोंकेछात्र-छात्राओंकेसाथहीकलाप्रेमीदर्शकोंवकलाकारोंनेभीप्रतिभागिताकी।

By Daly