शारीरिक शिक्षा

जागरणसंवाददाता,नारनौल:

पुलिसद्वाराजिलेमेंअपराधोंपरअंकुशलगानेकेनितनएदावेकिएजारहेहैं,लेकिनआलमयहहैकिकंट्रोलरूमहीपुलिसकेनियंत्रणमेंनहींहै।ऐसेमेंअपराधकैसेरुकेंगेइसकीसहजकल्पनासंभवहै।आमजनकीसुविधाकेलिएपुलिसद्वाराकंट्रोलरूमका100नंबरनिर्धारितकियाहोताहै,लेकिनजिलेकेआमव्यक्तिद्वाराइनदिनोंइसनंबरपरफोनलगानाखुदकेलिएहीसिरदर्दबनजाताहै।हालातयहहैकिदिनमेंफोनमिलायाजाताहैतोदकस्टमरबिजीअनादरकॉलप्लीजट्राइअगेनलेटरकंप्यूटरीकृतआवाजआतीहैऔरअगररातको12बजेकेबादफोनकियाजाताहैतोपूरीघंटीजानेकेबादआपनेजोनंबरमिलायाहैउसकाकोईजवाबनहींदेरहाहैआवाजसुननेकोमिलतीहै।यहींकारणहैकिगश्तकररहेकर्मचारियोंकोकंट्रोलरूमसेलेटसूचनामिलतीहै।इसकारणवेघटनास्थलयावारदातपरलेटपहुंचतेहैंतबतकअपराधीकाबूसेबाहरहोजाताहै।कईबारतोसड़कदुर्घटनामेंपुलिसकेदेरसेपहुंचनेपरहालातयहहोजातेहैंकिजामतकलगजाताहै।खासबातयेकिजबभीउच्चाधिकारियोंकोइसबातकीशिकायतकीजातीहैतोकंट्रोलरूममेंतैनातकर्मचारीफेककालआनेकाबहानाबनातेहैं।यहतबहैजबकिआपातकालीननंबर100कीतीनलाइनेंहैंयानिएकसाथतीनलोगोंसेफोनपरबातकीजासकतीहै।

दैनिकजागरणनेपूछातोलिखदियापत्र:

कंट्रोलरूमकानंबरनहींमिलनेकीलगातारशिकायतकेबाददैनिकजागरणनेकंट्रोलरूमअधिकारीसेखामियोंकेबारेमेंसवालकिया।उनकाजवाबफेककॉलआनेकाथा,लेकिनइसकेतुरंतबादउन्होंनेबीएसएनएलकोपत्रलिखकरइंटीग्रेटेडरिसीवरडेकोडरआइआरडीसिस्टमलगानेकोपत्रलिखदिया।इससिस्टममेंपहलेकन्फर्मेंशनकीप्रक्रियापूरीकीजातीहै।

हालयह,रातकीजगहसुबहपहुंचीपुलिस:

सतनालीमेंएकपरिवारपरशराबकेधंधेसेजुड़ेलोगोंनेहमलाकरदिया।परिवारकेसदस्यसंदीपकुमारनेकंट्रोलरूमफोनकिया,लेकिनफोननहींउठायागया।इसपर1091नंबरपरफोनकिया,वहांसेउसेएकनंबरदियागया।यहसूचनारात2बजेदीगई,लेकिनपुलिससुबहकरीब10बजेमौकेपरपहुंची।पीड़ितपरिवारनेपुलिसमेंलिखितशिकायतदेकरआरोपियोंकेखिलाफसख्तकार्रवाईकीमांगकीहै।

जिलापुलिसकार्यालयकीओरसेआइआरडीसिस्टमलगानेकेलिएमंगलवारकोहीपत्रआयाहै।पत्रमिलचुकाहै।जल्दहीआइआरडीसिस्टमलगायाजाएगा।

--नित्यानंद,एसडीओ,बीएसएनएल।

यहांपरटेक्निकलप्रॉब्लमहै।रेवाड़ीकेनक्शेकदमपरनारनौलमेंभीआइआरडीसिस्टमलगवायाजाएगा।इसकेबादसमस्याकासमाधानहोजाएगा।

--विनोदकुमार,एसपी,नारनौल।

By Connor