शारीरिक शिक्षा

जागरणटीम,आगरा।कोरोनामहामारीकीदूसरीलहरपहलीलहरसेज्यादाप्रभावशालीरहीं।इसनेसबसेज्यादाप्रभावितमजदूरवर्गकोकिया।शहरमेंनौकरीकरनेपहुंचेलोगोंकोगांवकारूखकरनापड़ा।गांवआकरपरिवारकेभरण-पोषणकेलिएमूंगकीखेतीकरली।कोरोनाकालमेंकीगईखेतीनेनौकरीजानेकेएहसासनहींहोनेदिया।

गेहूं,सरसों,आलूकीफसललेनेकेबादबारिशहोनेतकबाहतहसीलक्षेत्रका90फीसदीखेतीकारकबाखालीपड़ारहताहै।क्षेत्रकाकमपढ़ालिखायुवादिल्ली,गुजरात,राजस्थानआदिराज्योंमेंजाकरनौकरीवमजदूरीकरताहै।कोरोनामहामारीकीदूसरीलहरमेंनौकरीछोड़अपनेघरलौटेऔरगांवलौटकरमूंगकीखेतीअपनाई।नहटौलीगांवनिवासीब्रजेशविजेंद्रदिल्लीमेंकामकरतेहै।लाकडाउनकेबादगांवलौटकर10बीघामूंगकीखेतीकी।करीब20क्विंटलपैदावारहुई।लागतकाटकरदोनोंको50हजारकीबचतहुई।वहींवैदपुराकेदिनेश,नहटौलीकेसुरेंद्रआदिनेबतायाइससालपिछलीसालकीतुलनामेंकमपैदावारहुईभावठीकरहाहै।परिदोंकेघरौंदेउजाड़रहेग्रामीणकोरोका

जागरणटीम,आगरा।बासौनीथानाक्षेत्रमेंटीलेकाटखेतमेंमिलारहेग्रामीणकोवनविभागकीटीमनेमौकेपरपहुंचकररोका।टीमनेपैमाइशकेबादहीकार्यकरानेकीहिदायतदी।चंबलसेंक्चुरीक्षेत्रमेंपरिदेपेड़ोंपरअपनेघरौंदेबनातेहैंऔरजीवजंतुझाड़ियोंमेंअपनाआशियानाबनाकररहतेहै।रविवारकोबासौनीथानाक्षेत्रकेपुराशिवलालनिवासीएककिसानचंबलसेंक्चुरीक्षेत्रमेंटीलेट्रैक्टरसेकाटकरअपनेखेतमेंमिलारहाथा।इससेजीव-जंतुओंवपरिदोंकेघरौंदेनष्टहोनेकीसूचनावनविभागकीटीमनेमौकेपहुंची।टीमनेकिसानकोटीलाकाटनेसेरोकातोकिसानेअपनीजमीनकाहवालादिया।रेंजरआरकेसिंहकाकहनाहैकिकिसानकोपैमाइशकरानेकीहिदायतदीगईहै।पैमाइशकेबादहीपताचलसकेगाजमीनवनविभागकीहैयाकिसानकीअभीकार्यबंदकरादियाहै।