शारीरिक शिक्षा

देशकीराजधानीदिल्लीइसवक्तकोरोनाकीदूसरीलहरकासामनाकररहीहै.बीतेकुछदिनोंमेंनएमामलोंमेंकमीज़रूरआईहै,लेकिनमौतोंकाआंकड़ालगातारबढ़रहाहै.इससंकटकेबीचदिल्लीमेंऑक्सीजनकीकिल्लतभीजारीहै.वहींसुप्रीमकोर्टनेगुरुवारको दिल्लीकोऑक्सीजनकोटाबढ़ाएजानेऔरउसकीआपूर्तिपरयाचिकाकीसुनवाईभीकरलीहै.मामलेमेंजस्टिसचंद्रचूड़नेकहाकिहमजल्दीहीआदेशसुनाएंगे.

ऑक्सीजनसंकटपरसुप्रीमकोर्टमेंसुनवाई

सुप्रीमकोर्टमेंगुरुवारकोऑक्सीजनसंकटकोलेकरसुनवाईशुरूहुई.केंद्रसरकारअदालतकोसूचितकियाकिदिल्लीकोबीतेदिन700एमटीऑक्सीजनदीगईहै,उससेपहलेभीदिल्लीको585एमटीऑक्सीजनदीगईथी.बीतीरातदिल्लीके56अस्पतालोंकेसाथएकएक्सरसाइज़कीगई.देरीसिर्फटैंकर्सकीवजहसेहोरहीथी.

सर्वेकेमुताबिकफिलहाल,दिल्लीकेअस्पतालोंमेंऑक्सीजनकाजरूरीस्टॉकमौजूदहै.ऑक्सीजनएक्सप्रेसट्रेनसेआज280मीट्रिकटनऑक्सीजनआरहीहै.केंद्रद्वारासुप्रीमकोर्टकोबतायागयाहैकिदिल्लीकेअलावाकईअन्यराज्यभीहैं,जहांपरऑक्सीजनकीडिमांडबढ़रहीहै.राजस्थान,हिमाचलप्रदेश,जम्मू-कश्मीरमेंडिमांडबढ़तीजारहीहै.

सुनवाईकेदौरानसुप्रीमकोर्टनेसवालकियाकिक्याअस्पतालोंकेपासऑक्सीजनस्टोरकरनेकीक्षमताहै.कोर्टपहलेहीआदेशदेचुकीहैकिकेंद्रको3मईतकबफरस्टॉकतैयाररखनाचाहिए.अदालतनेकहाकिअगरस्टॉकरहेगातोपैनिककेहालातनहींबनपाएंगे.

कोरोनाकीतीसरीलहरमेंबच्चेसंक्रमितहुएतोक्याकरेंगे?SCनेसरकारसेपूछाइमरजेंसीप्लान

सुप्रीमकोर्टनेकहाकिआपऑक्सीजनबढ़ाइए,क्योंकिदिल्लीको700एमटीदेनाहोगा.केंद्रकाकहनाहैकिऐसेमेंअन्यराज्योंमेंकटौतीकरनीहोगी.

जस्टिसचंद्रचूड़नेटिप्पणीकरतेहुएकेंद्रसरकारसेकहाकिअगरआपपॉलिसीबनानेमेंकोईगलतीकरतेहैं,तोउसकेलिएआपजिम्मेदारहोंगे.हमनहीं,इसलिएहमपॉलिसीबनानेमेंनहींजाएंगे.कुछसालोंकेबादहमेंनहींचुनावमेंखड़ाहोनाहै.

वहींलंचकेबादशुरूहुईसुनवाईमेंदिल्लीसरकारनेकहाकिकईराज्योंकोबिनामांगेज्यादाऑक्सीजनदीजारहीहै.लेकिनदिल्लीकोमांगनेपरभीनहींदीजारहीहै.उन्होंनेकहाकिआवंटनकेवलपेपरपरनहींहोनाचहिए,उसकोज़मीनपरउताराजानाचहिए.हमICUमरीज़सेयहनहींकहसकतेकिउसकोसिर्फ24लीटरऑक्सीज़नदेसकतेहैंक्योंकिकेंद्रने36लीटरदेनेसेमनाकियाहै.

दिल्लीसरकारकेवकीलराहुलमेहरानेकहा,एकस्वतंत्रऑडिट,कियाजानाचाहिएजिससेनागरिकोंमेंआत्मविश्वासऔरव्यवस्थामेंविश्वासबढ़ेगा.ऑडिट केंद्रसरकारद्वारानहींबल्किनिष्पक्षऔरपारदर्शीतरीकेसेहोनाचाहिए.जिसकेबादअबसुप्रीमकोर्टनेदिल्लीकोऑक्सीजनकोटाबढ़ाएजानेऔरउसकीआपूर्तिपरयाचिकाकीसुनवाईपूरीकरलीहै.मामलेमेंजस्टिसचंद्रचूड़नेकहाकिहमजल्दीहीआदेशसुनाएंगे.

'ऑक्सीजनआवंटनकाफॉर्मूलासुधारनेकीजरूरत'

अदालतमेंस्वास्थ्यमंत्रालयकीअतिरिक्तसचिवसुमितादावरानेबतायाकिकुलटैंकरके53फीसदीकोदिल्लीसप्लाईकेलिएहीलगायागयाहै, 6कंटेनर्सभीलगाएगएहैं.अगलेकुछदिनोंमेंइनकीसंख्या24होजाएगी,इनमेंभरेहुएऔरवापसप्लांटतकजानेवालेकेंटेनर्सभीशामिलरहेंगे.

केंद्रनेअदालतमेंकहाकिदिल्लीकेसभीअस्पतालकोविडस्पेशलनहींहैं,ऐसेमेंजोछोटेअस्पतालहैंउनकेपासऑक्सीजनस्टोरकरनेकीक्षमतानहींहै.सुप्रीमकोर्टनेकहाकिबतराअस्पतालमेंऑक्सीजनसप्लाईतीनघंटेदेरीसेहुई,जिसकेकारणएकवरिष्ठडॉक्टरकीजानचलीगई.सुप्रीमकोर्टनेकेंद्रसेकहाहैकिऑक्सीजनआवंटनकेफॉर्मूलेकोपूरीतरहसेसुधारने कीजरूरतहै.

अदालतनेतीसरीलहरपरचिंताजताई

जस्टिसचंद्रचूड़नेटिप्पणीकरतेहुएकहाकिऑक्सीजनसप्लाईमेंकहांदिक्कतआरहीहै,अगरस्टॉकरहेगातोपैनिकनहींहोगा.अगरकलकोमामलेबढ़तेहैं,तोआपक्याकरेंगे.अभीसप्लाईटैंकर्सपरनिर्भरहै,कलकोटैंकर्सनहींहोंगेतोक्याकरेंगे.अदालतनेकहाकिदूसरीलहरसिरपरहैऔरहमअभीइसीपरहैंकिक्याहोनाचाहिए.रिपोर्टकहतीहैंकितीसरीलहरमेंबच्चोंपरभीअसरहोगा.

सुप्रीमकोर्टनेकहाकितीसरीलहरमेंक्याकरनाचाहिएउसकीतैयारीअभीकरनीहोगी,युवाओंकावैक्सीनेशनकरनाहोगा,अगरबच्चोंपरअसरबढ़ताहैतोकैसेसंभालेंगेक्योंकिबच्चेतोअस्पतालखुदनहींजासकते.

क्लिककरें-कोरोना:दूसरीलहरकाकहर,तीसरीकाडर...क्यासंपूर्णलॉकडाउनलगाएगीमोदीसरकार?

दिल्लीसरकारनेअदालतमेंरखाअपनापक्ष

दिल्लीसरकारकीओरसेअदालतमेंबतायागयाहैकिराजधानीकेअधिकतरअधिकारीसीधेएलजीकोरिपोर्टकरतेहैं,ऐसेमेंकेंद्रकोपताहैकिहमेंकितनीदिक्कतोंकासामनाकरनापड़रहाहै.दिल्लीसरकारनेकोर्टमेंपिछलेपांचदिनोंकीऑक्सीजनसप्लाईकाब्योराभीरखा.दिल्लीसरकारनेकहाहैकिहमकिसीभीऑडिटकाविरोधनहींकरतेहैं,लेकिनदेशव्यापीऑडिटहोनाचाहिए.सुप्रीमकोर्टसेइतरगुरुवारकोदिल्लीहाईकोर्टमेंभीऑक्सीजनसंकटपरसुनवाईहोनीहै.

कईअस्पतालहाईकोर्टकीशरणमेंहैं,ऐसेमेंऑक्सीजनसंकटकेअलावाअन्यकईमसलोंकोसुनाजानाहै. अगरदिल्लीमेंकोरोनाकेमामलोंकीबातकरें,तोबीतेदिनराजधानीमें20हजारकेकरीबकोरोनाकेकेसआए,जबकि300सेअधिकमौतेंहुईं.दिल्लीमेंइसवक्त91हजारसेज्यादाकोरोनाकेएक्टिवकेसहैं,जबकिमरनेवालोंकीसंख्या18हजारकेपारचलीगईहैं.