शारीरिक शिक्षा

नयीदिल्ली,20मार्च(भाषा)देशमेंकोरोनावायरससेसंक्रमणकेमामलेबढ़नेपरमान्यताप्राप्तनिजीप्रयोगशालाओं(लैब)कोअपनीमंजूरीदेनेकेबादभारतीयआयुर्विज्ञानअनुसंधानपरिषद(आईसीएमआर)द्वाराउन्हेंप्रत्येकजांचकीकीमत4,500रुपयेसे5,000रुपयेकेबीचरखनेकाशीघ्रनिर्देशदियेजानेकीसंभावनाहै।केंद्रीयस्वास्थ्यमंत्रालयनेकोविड-19जांचशुरूकरनेकाइरादारखनेवालीनिजीक्षेत्रकीप्रयोगशालाओंकेलिएमंगलवारकोदिशानिर्देशजारीकियेथेजबकिआईसीएमआरनेउनसेयहजांचमुफ्तकरनेकीअपीलकीथी।अधिकारीनेकहा,‘‘ऐसालगताहैकिकोईभीइसेमुफ्तेनहींकरनाचाहताऔरयहीकारणहैकिनिजीलैबकोकोविड-19केलियेहरजांचकीकीमत4,500से5,000रुपयेकेबीचरखनेकोकहाजाएगा।’’आधिकारिकसूत्रोंकेमुताबिककरीब51निजीप्रयोगशालाओंनेसरकारसेसंपर्ककरउन्हेंइसश्वसनरोगकेलियेजांचकीइजाजतदेनेकाअनुरोधकियाहै।इसमहामारीसेदेशमेंअबतक223लोगोंकीमौतहोचुकीहै।गौरतलबहैकिफिलहालआईसीएमआरनेइसवायरसकीजांचकेलिएअपनी72प्रयोगशालाओंकोउपकरणोंसेलैसकियाहै।इसकेअलावासीएसआईआरऔरडीआरडीओजैसेसंगठनोंकी49प्रयोगशालाएंभीइसहफ्तेकेअंततकजांचकेलियेसुसज्जितकीजाएंगी।आईसीएमआरएनसीआरऔरभुवनेश्वरमेंभीदोजांचकेंद्रस्थापितकररहीहै।येकेंद्ररोजाना1400नमूनोंकीजांचकरसकतेहैं।

By Cross