शारीरिक शिक्षा

नयीदिल्ली,25मई(भाषा)दिल्लीसरकारद्वारासंचालितअस्पतालकेचिकित्सकोंनेकोविड-19रोगियोंकेनैदानिकप्रोफाइलकीव्याख्याकरकेमहामारीकीमहामारीविज्ञानसंबंधीविशेषताओंकीजांचकरनेकेलिएएकअध्ययनकियाऔरपायाकिउच्चरक्तचापउनमेंसेसबसेआमसह-रुग्णताथी।दिल्लीमेंकोरोनावायरसमहामारीकापहलामामलामार्च2020मेंसामनेआयाथा।राष्ट्रीयराजधानीके650बिस्तरोंवालेराजीवगांधीसुपरस्पेशियलिटीअस्पताल(आरजीएसएसएच)मेंडॉक्टरोंद्वाराकिएगएइसअध्ययनमें9-96वर्षकीआयुकेकुल3,534रोगियोंकानामांकनकियागयाथा।मईमें‘जर्नलऑफफैमिलीमेडिसिनएंडप्राइमरीकेयर’मेंप्रकाशितअध्ययनकेअनुसार,लक्षणोंवालेरोगियोंमेंबुखारऔरखांसीसबसेआमलक्षणथे,जबकि5.6प्रतिशतरोगियोंमेंकोईलक्षणनहींथे।अध्ययनकाहिस्सारहेएकडॉक्टरनेकहाकिसुपरस्पेशियलिटीअस्पतालमेंआए“कोविड-19रोगियोंकेनैदानिकप्रोफाइलकीव्याख्याकरकेमहामारीकीमहामारीविज्ञानसंबंधीविशेषताओंकाअध्ययन”करनेकेलिएयहकवायदकीगई।शोधकर्ताओंनेअध्ययनकेनिष्कर्षमेंलिखा,“कोविड-19अपनीउच्चसंक्रमणदरकेकारणसार्ससेकाफीअलगहै।अबभीमहामारीकेबारेमेंकईअनिश्चितताएंप्रचलितहैं।संक्षेपमें,यहमहामारीदुनियाभरमेंचिकित्सासमुदायकेलिएएकबड़ीपरीक्षारहीहैऔरवास्तवमेंइसनेकईमूल्यवानअनुभवप्रदानकिएहैं।देशमेंमौजूदास्वास्थ्यबुनियादीढांचेऔरनीतियोंकोसटीकऔरभविष्यकीदृष्टिसेतैयारकरनेकीआवश्यकताहै।”उन्होंनेकहाकियहगोपनीयताबनाएरखतेहुएउनरोगियोंकेचिकित्सारिकॉर्डकाउपयोगकरकेएकव्याख्यात्मकअध्ययनथा,जो17मार्च,2020और15जनवरी,2021केबीचरिवर्सट्रांसक्रिप्शन-पोलीमरेज़चेनरिएक्शन(आरटीपीसीआर)जांचकाइस्तेमालकरनेपरसार्ससीओवी-2आरएनएसेसंक्रमितपाएगएथे।अध्ययनकेनतीजोंमेंपायागयाकि“उच्चरक्तचापसबसेआमसह-रुग्णता(37प्रतिशत)थी,जबकि43प्रतिशतप्रतिभागियोंमेंकोईसह-रुग्णतामौजूदनहींथीऔरयहउम्रकेलिएसांख्यिकीयरूपसेमहत्वपूर्णथी।”अध्ययनकेमुताबिक,“50प्रतिशतसेअधिकरोगीघरपरपृथकवासमेंथे,जबकि11प्रतिशतरोगियोंकाघातकपरिणामथा।बुजुर्गआयुवर्गकेलोगोंमेंमौतकाअनुपातअधिकथा।अधिकांशरोगियोंकोनौसे11दिनअस्पतालमेंरहनापड़ा।”अध्ययनमेंकुल63स्वास्थ्यकर्मीशामिलकिएगएथेऔरपुरुष:महिलाअनुपात3.5बनामएककाथा।अध्ययनकेनिष्कर्षमेंकहागया,“हमारेअध्ययनसेपताचलताहैकिअस्पतालमेंआएसंक्रमणकेअधिकांशमामलोंमेंहल्के/मध्यमलक्षणथे।हमारामाननाहैकिरोगियोंकेउचितपरीक्षणकेबादप्रारंभिकचिकित्सासंस्थानऔरअच्छीमहत्वपूर्णदेखभालसेवाएंइसमहामारीकोनियंत्रितकरनेमेंमददकरसकतीहैं।”

By Connor