शारीरिक शिक्षा

कोरोनाकीसेकेंडवेवनेजमकरतबाहीमचाईहुईहै।हॉस्पिटलऔरबेडसेलेकरदवाइयोंऔरऑक्सीजनतककेलिएपेशेंट्सकोजूझनापड़रहाहै।ऐसेमेंकोरोनाकीसंभावितथर्डवेवकोदेखतेहुएलोगोंकोवैक्सीनलगवानेकेलिएजागरूककियाजारहाहै।लेकिनलोगभारतमेंउपलब्धकोवैक्सीनऔरकोविशील्डकोलेकरअसमंजसमेंहैंकिकौनसीवैक्सीनलगवानाबेहतरहै।वैसेतोमिनिस्ट्रीऑफहेल्थएंडवेलफेयरनेकहाहैकि,'दोनोंवैक्सीनकेबीचकिसीतरहकीतुलनानहींकीजासकती।दोनोंहीवैक्सीनइंफेक्शनऔरउसकेबादहोनेवालीगंभीरस्थितिसेबचावमेंकारगरहैं।'

क्याफर्कहैकोविशील्डऔरकोवैक्सीनमें

कोविशील्डकोऑक्सफोर्डयूनिवर्सिटीऔरएस्ट्राजेनेकाकीमददसेतैयारकियागयाहै।इसेपुणेकीसीरमइंस्टीट्यूटऑफइंडियानेबनायाहै।कोविशील्डकोसिंगलवायरसकेजरिएबनायागयाहै।

इसवैक्सीनकोलगवानेकेबादउसजगहपरदर्द,लालहोना,बुखार,बदनदर्दहोनाजैसीसमस्याहोसकतीहै।

इसवैक्सीनकीकीमतसरकारने150रुपएरखीहै।राज्यसरकारने400रुपएऔरप्राइवेटअस्पतालोंमेंयह600रुपएमेंलगाईजारहीहै।

कोवैक्सिनकोआईसीएमआर(ICMR)औरभारतबायोटेकनेतैयारकियाहै।इसवैक्सीनमेंडेडवायरसहैजोआपकेशरीरमेंजाकरएंटीबॉडीपैदाकरतेहैं।जोअसलीवायरसकोपहचाननेकेलिएतैयारकरताहैऔरसंक्रमणहोनेपरउससेफाइटकरताहै।कोवैक्सिनकोरोनाकेसभीवेरिएंट्सपरअसरदारमानाजारहाहै।

इसवैक्सीनकोलेनेकेबादसूजन,दर्द,बुखार,पसीना,ठंडलगना,सरदर्दजैसीसमस्याएंहोसकतीहैं।

कोविशील्डकीतुलनामेंइसकीकीमतज्यादाहै।राज्यसरकारकेलिएइसकीकीमत400रुपएहै।प्राइवेटअस्पतालमें1200रुपए।

By Cooke