शारीरिक शिक्षा

जागरणसंवाददाता,बहादुरगढ़:

लोकलरूटोंपररोडवेजबसोंकीसंख्याकमहोरहीहैऔरप्राइवेटआपरेटरबढ़तेजारहेहैं।इससेनियमोंकोलेकरमनमानीभीहोरहीहै।सरकारनेजितनीकेटेगरीमेंयात्राफ्रीयाफिररियायतमेंकररखीहै,उनकोलेकरप्राइवेटआपरेटरमाननेकोतैयारहीनहींहोते।किरायेकोलेकरभीकईबारशिकायतेंआतीहैं।मगरइसपरकोईकार्रवाईनहींहोती।बहादुरगढ़सेगुरुग्राम,झज्जर,बेरी,खरखौदाऔररोहतकरूटऐसेहैं,जहांप्राइवेटबसोंकीसंख्याअबपहलेकेमुकाबलेकहींज्यादाबढ़चुकीहै।रोडवेजबसोंकापरिचालनअबज्यादातरलंबेरूटोंपरहीहोरहाहै।उनमेंभीकिलोमीटरस्कीमकेअंतर्गतआनेवालीबसोंकोप्राथमिकतादीजारहीहै।ऐसेमेंलोकलरूटोंकीसड़कोंसेलेकरबसस्टैंडतकपरप्राइवेटबसेंहीज्यादानजरआतीहैं।नियमोंकोमाननेसेइन्कारकरदेतेहैंप्राइवेटआपरेटर

सरकारकीओरसेरोडवेजबसोंमेंछात्राओंकेलिएमुफ्तयात्राकेअलावाअन्यकैटेगरीमेंभीसुविधादेरखीहै।60वर्षसेअधिकउम्रकीमहिलाओंऔर65वर्षसेअधिकउम्रकेपुरुषयात्रियोंकेलिए50प्रतिशतकिरायेकीरियायतहै।रोडवेजअधिकारियोंकेमुताबिककायदेसेतोपरमिटपरचलनेवालीप्राइवेटबसोंमेंभीइसतरहकीछूटमिलनीचाहिए,मगरप्राइवेटबसआपरेटरइससेइंकारकरदेतेहैं।कईमामलोंमेंतोकिरायेमेंरियायतकीकहनेपरबुजुर्गाेंकोबीचरास्तेमेंहीबससेउतारनेकीधमकीदेतेहैं।ऐसाहीकुछछात्राओंकेसाथभीहोताहै।उनकोभीटिकटलेनेकेलिएबाध्यकियाजाताहै।इसतरहकीशिकायतेंछात्राओंकीओरसेरोडवेजअधिकारियोंकोकईबारदीजाचुकीहैं,मगरउसपरकोईकार्रवाईनहींहोती।

By Cross