शारीरिक शिक्षा

नयीदिल्ली,पांचजुलाई(भाषा)भ्रष्टाचारविरोधीलोकपालको100करोड़रुपयेकाबजटआवंटितकियागयाहैजबकिकेंद्रीयसतर्कताआयोग(सीवीसी)केलियेवित्तवर्ष2019-20में35.55करोड़रुपयेकाबजटआवंटितकियागयाहै।सरकारनेमौजूदावित्तवर्षकेलियेएकफरवरीकोपेशकियेगएअपनेअंतरिमबजटमेंलोकपालकेलियेवर्ष2018-19मेंनिर्धारित4.29करोड़रुपयेकीराशिमेंफेरबदलनहींकियाथा।भ्रष्टाचारनिरोधकनिकायकोइससालमार्चमेंअपनाअध्यक्षऔरसदस्यमिलेथे।वित्तमंत्रीनिर्मलासीतारमणद्वाराशुक्रवारकोपेशकियेगएबजटकेमुताबिकलोकपालकेलिये2019-20मेंकुल101.29करोड़कीरकमनिर्धारितकीगईहै।यहप्रावधानलोकपालकेलियेस्थापनाएवंनिर्माणसंबंधीव्ययकेउद्देश्यसेकियागयाहै।लोकपालअभीराष्ट्रीयराजधानीकेएकपांचसिताराहोटलसेअपनाकामकररहाहै।राष्ट्रपतिरामनाथकोविंदने23मार्चकोन्यायमूर्तिपिनाकीचंद्रघोषकोलोकपालकेअध्यक्षकेतौरपरपदकीशपथदिलाईथी।न्यायमूर्तिघोषने27मार्चकोलेकपालकेआठसदस्योंकोपदकीशपथदिलाईथी।वहींसीवीसीकोमौजूदावित्तवर्षमें35.55करोड़रुपयेकीराशिआवंटितकीगयीहै।