शारीरिक शिक्षा

जागरणसंवाददाता,फतेहाबाद:

लॉकडाउनमेंआईमंदीमेंहरकोईबचतकरनाचाहताहै।प्रदेशसरकारकेरोडवेजमहकमेकेअधिकारीभीअबइसमेंशामिलहोगए।लॉकडाउनमेंहोनेकेचलतेरोडवेजकीआर्थिकहालतखराबहोगई।अबइसकेकुछसुधारकरनेकेलिएफतेहाबादडिपोकी55केकरीबबसोंकीपासिगनहींकरवाईजारही।इसकीवजहहैकिइनबसोंकाबीमाखत्महोगया।अधिकारीबीमेकेरुपयेबचानेकेलिएबसोंकीपासिगनहींकरवारहे।अधिकारियोंकाकहनाहैकिकोरोनाकॉलमेंयात्रीकमसफरकररहेहैं।ऐसेमेंअबमहज50से70बसेंहीचलरहीहैं।ऐसेमेंआधेसेअधिकबसेंडिपोकेप्रांगणमेंहीखड़ीरहतीहै।जबबसेंचलनेलगेंगी,तबबसोंकाबीमाकरवायाजाएगा।बिनाबसोंकेरूटोंपरचलाएंबीमेकेरुपयेक्योंभरेजाएं।पासिगकेरुपयेतोपरिवहनविभागकेपासहीजानेहै,लेकिनबीमाकेरुपयेरोडवेजविभागकोनिजीकंपनीकोदेनेपड़तेहैं।

----------------50से70हजाररुपयेखर्चहोतेएकबसकेबीमापररोडवेजविभागफतेहाबादडिपोकी55बसोंकाबीमानकरवाकरप्रतिमाहकरीबपौनेतीनलाखरुपयेकीबचतकररहेहै।रोडवेजकेअधिकारियोंकाकहनाहैकिपूरेप्रदेशमेंबसोंकाबीमाहोताहै।एकबसकाऔसतनबीमा50से70हजाररुपयेवार्षिकतकहोताहैं।जबरोडपररोडवेजकीबसनहींचलनीऐसेमेंबसोंकाबीमानहींकरवायाजारहा।

इधर,ऑनलाइनट्रांसफरसे45चालकतो20परिचालकमिले:

रोडवेजविभागमेंचालकवपरिचालकोंकीऑनलाइनट्रांसफरहुई।जिसकेतहतफतेहाबादडिपोको20परिचालकव45चालकमिले।हालांकिअधिकारियोंकाकहनाहैकिअभीतकफाइनलनहींहुआहै।बृहस्पतिवारतकपूरीलिस्टसामनेआएगी।वैसेफतेहाबादडिपोंको60चालकव60हीपरिचालकोंकीजरूरतहैं।ऑनलाइनट्रांसफरनीतिकेतहतफतेहाबादमेंसोनीपत,गुरुग्रामवफरीदाबादसेबड़ीसंख्यामेंकर्मचारीआएहैं।

--------------------ऑनलाइनट्रांसफरपोलिसीबेहतरीनहै।इससेकर्मचारियोंकोमनमर्जीकेअनुसारस्टेशनमिलरहेहै।फतेहाबादडिपोमेंकुछचालकवपरिचालकआएहै।लेकिनइसकेबारेमेंबृहस्पतिवारतकतयहोगाकिकितनेकर्मचारीआएहैंवकितनेगए।वहींरोडवेजबसोंकाबीमानिदेशालयस्तरपरहोताहै।इसबारेमेंमुझेजानकारीनहीं।

-मुकेशशर्मा,ट्रैफिकमैनेजर।

फतेहाबादजिलेमेंरोडवेजबस:159

फतेहाबादजिलेमेंपरिचालक:249

फतेहाबादजिलेमेंचालक:242

By Cooke