शारीरिक

संवादसूत्र,गैरसैंण:कुमाऊंसीमासेसटेमाईथानकस्बेमेंरविवारकोगैरसैंणकोराजधानीघोषितकरनेमेंलगातारहोरहेविलंबऔरआंदोलनकारियोंपरजुल्मकेविरोधमेंप्रदेशसरकारकापुतलाफूंकागया।सोमवारकोरामलीलामैदानमेंआंदोलनसंचालनसमितिकीबैठकमेंगैरसैंणकोराजधानीघोषितकरनेकीमांगकोलेकरनिर्णायकरणनीतिबनानेकानिर्णयभीलियागया।

गैरसैंणराजधानीसंघर्षसमितिकेअध्यक्षनारायणसिंहराणा33अन्यआंदोलनकारियोंकेसाथतीनदिनजिलाजेलपुरसाड़ीमेंबितानेकेबादरविवारकोअपनेगृहक्षेत्रपहुंचे।लोगोंनेउनकास्वागतकिया।इसमौकेपरआयोजितजनसभामेंराणानेकहाकिआंदोलनकोतोड़नेकीलगातारसाजिशकीजारहीहै,किंतुआंदोलनकारियोंकेजोशमेंकमीनहीआईहै।सभामेंमाईथानव्यापारसंघअध्यक्षबिरेन्द्रसिंहनेतमामआंदोलनकारीसंगठनोंसेराजधानीनिर्माणमेंभागीदारीकीअपीलकी।आरोपलगायाकिसरकारशांतढंगसेप्रदर्शनकररहेलोगोंकेखिलाफदमनात्मकनीतिअपनारहीहै।उन्हेंमुकदमेदर्जकरजेलभेजाजारहाहै,जबकिअलोकतांत्रिककार्यकरनेवालोंकोपुरस्कृतकियाजारहाहै।कहागयाकिगैरसैंणराजधानीकीमांगराज्यआंदोलनसेजुड़ीहै,किंतुदोदशकबीतजानेकेबावजूदप्रदेशकीस्थायीराजधानीस्थानतयनहींहोसकीहै।इसमुद्देपरतमामराजनीतिकदलजनताकोभरमारहेहैं।सभाकेबादमाईथानबाजारमेंगैरसैंणराजधानीकेनारोंकेसाथसरकारकापुतलादहनकियागया।इसमौकेपरकुंवरसिंहनेगी,प्रधानदेवपुरी,व्यापारसंघअध्यक्षबिरेंद्रसिंह,अवतारसिंह,कुंवरसिंह,विक्रमसिंह,सयनसिंह,जितेंद्रनेगी,हीरासिंह,रामसिंहआदिमौजूदरहे।