शारीरिक शिक्षा

जागरणसंवाददाता,हरिद्वार।महाशिवरात्रिकेमौकेपरधर्मनगरीहरिद्वारमेंभगवानशिवकीससुरालकनखलकेदक्षेश्वरमहादेवमंदिरमेंभगवानभोलेनाथकाजलाभिषेककरनेकेलिएशिवभक्तोंकीभीड़लगीहुईहै।कोविडकालकेबादयहपहलामौकाहै,जिसमेंइसबारप्रशासननेमंदिरोंमेंपूजा-अर्चनाकेलिएकोईरोकनहींलगाईहै।इसबारकांवड़यात्रापरभीरोकनहींलगाईगईथी।यहीवजहहैकिमंदिरोंमेंभक्तोंकीभारीभीड़दिखाईदेरहीहै।

दक्षेश्वरमहादेवमंदिरमेंभक्तोंकीलंबीलाइनेंलगीहुईहैं।मंदिरकेप्रबंधकविश्वेश्वरपुरीबाबानेबतायाकिआजकेदिनभगवानशिवऔरमातासतीकाविवाहहुआथा।भगवानशिवकेविवाहसमारोहकेउपलक्षमेंमहाशिवरात्रिकापर्वमनायाजाताहै।बड़ेहर्षउल्लासकेसाथयहांपरमहाशिवरात्रिकापर्वमनायाजारहाहै।भक्तोंकीभीड़कोदेखतेहुएमंदिरप्रशासननेउचितइंतजामकिएगएहैं।सुरक्षाव्यवस्थाकेलिएमंदिरपरिसरमेंपुलिसभीमौजूदहै।

रुड़कीमेंश्रद्धापूर्वकमनायाजारहामहाशिवरात्रिकापूर्व

शहरऔरआसपासकेक्षेत्रोंमेंशिवरात्रिकापर्वश्रद्धापूर्वकमनायाजारहाहै।मंदिरोंमेंजलाभिषेककेलिएश्रद्धालुकाफीसंख्यामेंपहुंचरहेहैं।शहरकेसिविललाइंसस्थितप्राचीनश्रीसिद्धेश्वरमहादेवशिवमंदिरमेंअलसुबहसेहीशिवलिंगमेंजलाभिषेककेलिएश्रद्धालुओंकेपहुंचनेकासिलसिलाशुरूहोगयाथा।मंदिरमेंश्रद्धालुओंकेअधिकसंख्यामेंपहुंचनेकेकारणयहांपरकतारमेंलगकरभक्तोंकोअपनीबारीकाइंतजारकरनापड़रहाहै।वहीं,महाशिवरात्रिकेलिएमंदिरकोफूलोंसेभव्यरूपदियागयाहै।इसकेअलावासिविललाइंसकेश्रीजीवनमुक्तप्रेममंदिर,नहरकिनारेस्थितश्रीलक्ष्मीनारायणमंदिर,रामनगरकेराममंदिरएवंशिवचौकमंदिरसहितविभिन्नमंदिरोंमेंभीश्रद्धालुजलाभिषेककेलिएपहुंचरहेहैं।ऐसेमेंमंदिरपरिसरहर-हरमहादेवऔरबम-बमभोलेकेजयकारोंसेगूंजरहेहैं।

यहभीपढ़ें:-केदारनाथधामकेकपाटखुलनेकीतिथितय,छहमईकोसुबहछहबजकर25मिनटपरखुलेंगेकपाट

By Conway