शारीरिक शिक्षा

दरभंगा।उच्चन्यायालयकेमुख्यन्यायाधीशअमरेश्वरप्रतापशाहीनेकहाकिमिथिलांचलआदिकालसेज्ञानकीभूमिरहीहै।मनीषियोंनेकड़ीतपस्याकरइसेसींचाहै।युवापीढ़ीकोमिथिलाकेइतिहासकोआजसमझनेकीजरूरतहै।वेबुधवारकोस्थानीयचंद्रधारीसंग्रहालयकानिरीक्षणकरनेपहुंचेथे।इसदौरानउन्होंनेगैलरीमेंरखी15से19वींशताब्दीतककीतस्वीरोंकादीदारकिया।साथहीहाथीदांतपरबनीपेंटिग्सकोबारीकीसेदेखा।निरीक्षणकेक्रममेंचीफजस्टिसनेसंग्रहालयकेक्यूरेटरडॉ.सुधीरकुमारयादवकोतस्वीरोंकेनीचेउनकाइतिहासलिखवानेकीसलाहदी।एकपेंटिगकोदेखतेवक्तउसमेंमिलीखामियोंकीओरउन्होंनेसबकाध्यानआकृष्टकराया।इसकेबादउन्होंनेदुर्लभपांडुलिपियोंकोगौरसेदेखा।चित्रितपांडुलिपियोंकोदेखकरकाफीअभिभूतहुए।इसकेबादउन्होंनेमहाराजालक्ष्मीश्वरसंग्रहालयमेंहाथीदांतसेबनेपलंगवदुर्लभचीजोंकोदेखा।बतायाकिनकेवलमिथिलाबल्किपूराबिहारसांस्कृतिकऔरऐतिहासिकभूमिहै।कहाकिपहलेलोगविदेशोंसेनालंदाविविपढ़नेआयाकरतेथे।आजयहांकेलोगविदेशपढ़नेजायाकरतेहैं।सांस्कृतिकरूपसेहमारापतनहुआहै।संग्रहालयवपुस्तकालयमेंरखीदुर्लभकिताबोंऔरकलाकृतियोंसेयुवापीढ़ीकोरू-ब-रूहोनेकीजरूरतहै,ताकिवेअपनेइतिहासकोसमझसके।मीडियासेभीउन्होंनेआग्रहकियाकिऐतिहासिकऔरदुर्लभचीजोंकेइतिहासपरएपिसोडचलानेकीजरूरतहै।इससेपूर्वचीफजस्टिसनेललितनारायणमिथिलाविविऔरकामेश्वरसिंहदरभंगासंस्कृतविविकेअलावामांश्यामामंदिरगए।चंद्रधारीसंग्रहालयपहुंचनेपरक्यूरेटरनेउनकोबुकेदेकरसम्मानितकिया।इसदौरानचंद्रधारीसिंहकेपोतेडॉ.श्रृतिधारीसिंहनेसंग्रहालयमेंरखीदुर्लभचीजोंकेबारेमेंचीफजस्टिसकोबताया।बादमेंक्यूरेटरनेउन्हेंसंग्रहालयकीएकस्मारिकादी।मौकेपरसंग्रहालयकर्मीकेअलावाअन्यमौजूदथे।

लोकसभाचुनावऔरक्रिकेटसेसंबंधितअपडेटपानेकेलिएडाउनलोडकरेंजागरणएप